संवाद सहयोगी, हाथरस: पालिका प्रांगण में वृद्धावस्था पेंशन, निराश्रित महिला (विधवा) पेंशन, दिव्यांग पेंशन एवं दिव्यांगजनों को कृत्रिम अंग एवं सहायक उपकरण का लाभ दिलाने के लिए कार्यक्रम चलाया गया। तीन दिवसीय कार्यक्रम का समापन मंगलवार को कर दिया गया।

नगर पालिकाध्यक्ष आशीष शर्मा ने कार्यक्रम का समापन करते हुए बताया कि सरकार की ओर से लोगों को सुविधा देने के लिए अनेक योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। जानकारी के अभाव में इनका लाभ पात्रों तक नहीं पहुंच पाता। इसमें वृद्धावस्था पेंशन, निराश्रित महिला (विधवा) पेंशन, दिव्यांग पेंशन एवं दिव्यांगजनों को कृत्रिम अंग एवं सहायक उपकरण देने के लिए आवेदन स्वीकार करने के लिए 24, 26 व 27 जुलाई को नगर पालिका परिसर में शिविर लगाए गए। इस शिविर में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने दिव्यांग प्रमाणपत्र बनाए। इसके अलावा अन्य संबंधित प्रमाण पत्र बनाने के लिए प्रशासनिक अधिकारी लोगों के लिए उपलब्ध रहे। शिविर में 100 से अधिक आवेदन लिए गए। अधिक लोगों को इन योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए ही तीन दिवसीय शिविर का आयोजन किया गया। इसमें समाज कल्याण अधिकारी शिव कुमार, अधिशासी अधिकारी अनिल कुमार, कर अधीक्षक देवेन्द्र कुमार, कैम्प प्रभारी रवेन्द्र कुमार शर्मा, मनोज गौतम, विनीत आर्य, राजेश परिहार, येशुराज शर्मा, आशीष अस्थाना, सोनू शर्मा मौजूद रहे। बाइक रैली के जरिए किया जागरूक

जासं, हाथरस : सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा संचालित सीएससी ई-गवर्नेंस की ओर से सात दिवसीय आजादी के अमृत महोत्सव के आयोजन के क्रम में दूसरे दिन आयुष्मान भारत योजना की जागरूकता के लिए बाइक रैली का आयोजन किया गया। सभी विकास खंडों में आयुष्मान भारत का कार्ड बनाने को लेकर कैंप लगाए गए।

सभी ब्लाकों में सीएससी संचालकों ने बाइक रैली निकालकर आयुष्मान कार्ड बनवाने के लिए पात्र लोगों को जागरूक किया। जिला प्रबंधक प्रदीप सिंह ने बताया कि बाइक रैली के आयोजन से ग्रामीण जनमानस में जागरूकता लाने का प्रयास किया गया तथा प्रत्येक विकास खंड में आयुष्मान भारत कार्ड बनाने के लिए कैंप का आयोजन कर ज्यादा से ज्यादा लाभार्थियों को सुविधा प्रदान करने का प्रयास किया गया। जिले में सभी केंद्रों पर आयुष्मान कैंपों का आयोजन किया गया।

Edited By: Jagran