जासं, हाथरस : स्वामी विवेकानंद के हाथरस सिटी स्टेशन पर आने की स्मृति से जुड़े पत्थर को हटवाने को लेकर मंगलवार को आर्य समाज से जुड़ी साध्वी अग्नयानंदी ने स्टेशन मास्टर से मुलाकात की। स्टेशन पर पत्थर हटाए जाने को लेकर नाराजगी व्यक्त की।

साध्वी अग्नयानंदी ने बताया कि भारतीय संस्कृति को इतिहास के पन्नों से मिटाना किसी बड़े जुर्म से कम नहीं है। इसके लिए रेलमंत्री पीयूष गोयल को पत्र लिखकर हाथरस सिटी स्टेशन पर उनकी यादों से जुड़ा पत्थर फिर से लगवाने की मांग की जाएगी। उन्होंने कहा कि जब कई किताबों में स्वामी विवेकानंद से जुड़ी स्मृतियों में हाथरस सिटी स्टेशन पर आने का प्रमाण है तो रेलवे इसे हाथरस से आवागमन करने वाले हजारों यात्रियों को बताने में असमर्थ क्यों है? रेलवे प्रशासन भारतीय संस्कृति से जुड़े इस इतिहास को क्यों खत्म किया है।

Posted By: Jagran