संस, हाथरस : मौसम में बदलाव शुरू हो गया है। तीन दिन की गर्मी के बाद गुरुवार रात में आंधी के साथ बूंदाबांदी ने लोगों को राहत दी, मगर शुक्रवार को सूरज के तेवर ने गर्मी से व्याकुल कर दिया। गर्मी के कारण कूलर व एसी की बिक्री बढ़ गई है।

जून का दूसरा सप्ताह शुरू होते ही सूरज के तेवर ने परेशान कर दिया। गुरुवार को कुछ राहत मिली लेकिन उमस भरी गर्मी बरकरार रही। कूलर भी राहत नहीं दे पा रहे थे। उमस भरी गर्मी से लोग परेशान होकर छतों पर सो रहे थे। तभी रात करीब 11 बजे तेज आंधी आ गई। कुछ ही देर में बादलों ने डेरा डाला। तेज बौछार आईं। इसके बाद रात में कई बार हल्की बूंदाबांदी होती रही। शुक्रवार को सुबह बादल छाए हुए थे मगर दोपहर 11 बजे करीब तेज धूप निकलने से भीषण गर्मी फिर शुरू हो गई। मौसम विभाग के अनुसार मौसम में बदलाव मानसून का अलार्म है। कूलर और एसी की बिक्री बढ़ी

कोरोना काल में बाजार पूरी तरह नहीं खुले थे। जैसे ही अनलाक हुए पंखे और कूलर के अलावा एसी की बिक्री बढ़ गई है। उधर, लोग ठंडे पानी के लिए देसी फ्रिज घड़े व सुराही भी खरीद रहे हैं। जर्जर विद्युत लाइन से बढ़ रहे

फॉल्ट, निकल रही चिगारी

संसू, सादाबाद : कस्बे में कई स्थानों पर विद्युत लाइनें जर्जर हो चुकी हैं। फाल्ट होने पर लाइन टूट कर गिर जाती है। बिजली कटौती बढ़ने से लोगों की परेशानी बढ़ गई है। उप जिलाधिकारी विपिन कुमार शिवहरे ने बिजलीघर पर निरीक्षण कर रात्रि की शिकायतों को रजिस्टर में दर्ज करवाने के निर्देश दिए। एसडीओ दुर्गेश कुमार गौतम तथा अवर अभियंता अमित गुप्ता से कहा कि कई लोगों ने जर्जर विद्युत लाइन की स्पार्किंग की वीडियो उनके पास भेजी है। वीडियो से लगता है कि लाइनें कभी भी टूट कर गिर सकती हैं। इन लाइनों को वरीयता के आधार पर बदला जाए। कोठीद्वार स्थित रामलीला मैदान के आसपास तथा कई अन्य मोहल्लों में विद्युत लाइनें पूरी तरह से जर्जर हो चुकी है। प्रतिदिन टूट कर गिर जाती है, जिसके कारण इन इलाकों के घंटों विद्युत आपूर्ति नहीं मिल पाती है। उन्होंने विद्युत अधिकारियों से विद्युत आपूर्ति तथा कर्मचारियों की जानकारी ली।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप