जागरण संवादाता, हाथरस : जिला क्षय रोग नियंत्रण विभाग चल रहे सक्रिय क्षय रोगी खोज अभियान के तहत 51 टीबी के और रोगी खोज निकाले गए। इस अभियान के तहत जुटी 68 टीमों द्वारा कुल 149543 का सर्वे किया गया। इस अभियान के तहत 1622 संभावित रोगियों के बलगम नमूने लिए गए। इसमें 33 फेफड़े और 18 अन्य प्रकार के टीबी रोगी खोज निकाले गए, जिनका डेली रेजिमेन डॉट पद्धति द्वारा इलाज प्रारम्भ करने की प्रक्रिया अपनाई जा रही है।

जिला क्षय रोग अधिकारी डा. अनिल सागर वशिष्ठ ने बताया कि यह अभियान 14 सितंबर चलाया जायेगा, जिसमें और अधिक संख्या में टीबी के मरीजों को खोज निकालने का भरपूर प्रयास किया जायेगा।

उन्होंने लोगों से अपील की है कि इसी प्रकार इस अभियान को सफल बनाने में अपना पूर्ण सहयोग प्रदान करें तथा अपनी बीमारी व लक्षणों को छिपाएं नहीं बल्कि खुलकर बताएं, क्योंकि छिपाने से रोग बढ़ता है तथा बताने से उपचार मिलता है। उन्होंने बताया कि जो भी रोगी मिले हैं उनका लगातार उपचार चल रहा है। टीबी लगातार घर-घर जाकर लोगों से बातचीत करते हुए रोगियों के बारे में जानकारी हासिल कर रही है।

Posted By: Jagran