संसू, हाथरस : इगलास (अलीगढ़) कस्बे में अलीगढ़-मथुरा मार्ग पर रविवार देर रात एक कार ने दो परिवारों की खुशिया उजाड़ दीं। बरात चढ़त के दौरान कई बरातियों को रौंद दिया। इसमें दूल्हे के बड़े भाई व बग्घी में लगी घोड़ी की मौके पर ही मौत हो गई। दुल्हन के भाई समेत छह लोग घायल हैं। इस हादसे के बाद खुशिया पलभर में चीत्कार में बदल गईं और शादी स्थगित करनी पड़ी।

थाना गौंडा क्षेत्र के गाव गहलऊ के माजरा देव नगला निवासी सीआइएसएफ के शहीद जवान होशियार सिंह की बेटी शालू की शादी हाथरस के थाना सादाबाद क्षेत्र के गाव नगला गरीबा निवासी रोहिताश उर्फ रोहित से तय हुई थी। रविवार को कस्बे के अलीगढ़ रोड स्थित बालाजी फार्म हाउस में शादी थी। रात में खाना खाने के बाद बरात चढ़त हो रही थी। करीब 10 बजे अलीगढ़-मथुरा रोड पर गेस्ट हाउस से कुछ दूर पहले अलीगढ़ की ओर से आ रही तेज रफ्तार कार बरात में घुस गई। कार चालक ने बरात में शामिल लोगों को रौंद दिया। इससे अफरा-तफरी मच गई। हादसे में दूल्हे के भाई 28 वर्षीय धर्मवीर सिंह की मौके पर ही मौत हो गई। बग्घी में लगी घोड़ी भी मर गई। बग्घी क्षतिग्रस्त हो गई। दुल्हन का भाई दीपक, बरात में आए मथुरा के बाजना के नोसिलपुर निवासी कालू उर्फ जगदीश, नगला गरीबा निवासी नागेश, धर्मपाल सिंह, मनीष व एक अन्य रिश्तेदार घायल हो गए। घटना के बाद चालक कार लेकर फरार हो गया। घायलों को अलीगढ़ के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इंस्पेक्टर रिपुदमन सिंह ने बताया कि मृतक के भाई राकेश कुमार ने अज्ञात कार चालक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। बग्घी में लगी घोड़ी मथुरा के थाना बल्देव के ढगेटा निवासी हरिओम की थी।

Edited By: Jagran