संसू, हाथरस : सरकार की नीतियों के विरोध में स्टांप विक्रेता वेलफेयर एसोसिएशन सादाबाद ने शुक्रवार को हड़ताल रखी। पहले दिन दस्तावेज लेखक स्टांप विक्रेताओं का समर्थन करते हुए उनकी हड़ताल में शामिल हुए।

इस दौरान सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई। स्टांप विक्रेताओं की हड़ताल के कारण उप निबंधन कार्यालय में सन्नाटा पसरा रहा। उधर, हाथरस उप निबंधन कार्यालय में भी हड़ताल रही।

स्टाम्प विक्रेता तपन जौहर ने कहा है कि उत्तर प्रदेश सरकार की गलत नीतियों का शिकार प्रदेश के स्टांप वेंडर हो रहे हैं, जबकि स्टांप विक्रेता अपना रुपया लगाकर स्टाम्प विक्रय करते हैं। स्टांप विक्रेताओं को सरकार की तरफ से एक फ़ीसद कमीशन मिलता है, उसे भी बंद कर बड़े-बड़े उद्योगपतियों को फ्रेंचाइजी देकर स्टांप विक्रेताओं का भविष्य अंधकार में किया जा रहा है। स्टांप विक्रेताओं ने एक स्वर में सरकार से आह्वान किया है कि स्टांप विक्रेताओं के भविष्य को देखते हुए इस योजना को बंद किया जाए। शुक्रवार को पहले दिन की हड़ताल में दस्तावेज लेखक संघ ने भी स्टांप विक्रेताओं का समर्थन करते हुए उनकी हड़ताल में शामिल रहे, जिसके कारण उप निबंधन कार्यालय में सन्नाटे की स्थिति छाई रही। हड़ताल के दौरान सहायक लेखा परीक्षक प्रांतीय दस्तावेज लेखक संघ श्यामसुंदर गिरी, अध्यक्ष तेज बहादुर, नारायण पाराशर, संजय कुलश्रेष्ठ, राम कुमार, अशोक कुमार, सोनू शर्मा तथा स्टांप विक्रेता संजीव जैसवाल ,नीरज गुप्ता, लाखन सिंह, देवेंद्र कुमार, हरीश जैसवाल, दीपक गुप्ता, मुकेश पाराशर, निर्मला जैसवाल, मृदुल कुमार, सुखदेव सिंह, बीरी सिंह, दिनेश चंद बघेल, मुकेश शाह, राघवेंद्र उपाध्याय, रामसूरत चौहान आदि उपस्थित रहे। स्टांप वेंडरों ने एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

संवाद सूत्र, सिकंदराराऊ : शुक्रवार को स्टांप वेंडरों ने अपनी मागों को लेकर हड़ताल रखी। तहसील अध्यक्ष अमर सिंह बघेल के नेतृत्व में मुख्यमंत्री के नाम 3 सूत्रीय ज्ञापन एसडीएम को सौंपा। ज्ञापन में स्टांप वेंडरों ने कमीशन बढ़ाने की मांग को प्रमुख रूप से उठाया। दूसरी माग ई- स्टांपिंग का विरोध कर पुराने स्टांप को सुचारू रूप से जारी रखी जाए। तीसरी माग स्टांप वेंडरों ने तहसील परिसर में बैठने के लिए बिना किराए जगह देकर चैंबर बनवाने की भी मांग की। कहा अगर उनकी मागें नहीं मानी गईं तो धरना प्रदर्शन को मजबूर होंगे।

मुख्य अतिथि स्टाप विक्रेता वेलफेयर एसोसिएशन के प्रातीय उपाध्यक्ष हरपाल सिंह यादव ने कहा, आज के महंगाई के दौर में स्टांप वेंडरों को अपने जीवन यापन करना बहुत मुश्किल हो गया है। ज्ञापन देने वालों में कुलदीप पचौरी, राम कुमार जैन, शैलेंद्र कुमार, ओमप्रकाश यादव, लाल सिंह बघेल, लाखन सिंह बघेल, सीपी बघेल, राजबहादुर बघेल, अमर सिंह बघेल, वीरेंद्र यादव, श्याम यादव, आर्यन जैन, भगवान सिंह जाटव, चरन देवी, देवीराम बघेल, जितेंद्र कुमार, हरपाल सिंह आदि थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस