जागरण संवाददाता, हाथरस : ट्रेन से उतरकर रेलवे लाइन होते हुए घर जा रही महिला के गले से युवक रविवार रात सोने की चेन-पैंडल तोड़कर भाग निकला। महिला के पीछे आ रहे परिवार के लोगों ने पीछा कर युवक को पकड़ लिया। उसके दो साथी बचकर भाग निकले। आरोपित को कोतवाली पुलिस के हवाले किया। सीमा विवाद के कारण मामला दर्ज नहीं हो सका था।

मोहल्ला श्रीनगर के रहने वाले हरवंश कुमार रविवार को छोटी बेटी के लिए रिश्ता देखने कासगंज गए थे। उनके साथ बड़ी बेटी चांदनी पत्नी रवि निवासी सीतानगर, थाना एत्मादुद्दौला (आगरा) भी साथ गई थी। कासगंज-मथुरा पैसेंजर ट्रेन से ये लोग रात साढ़े नौ बजे सिटी स्टेशन पर पहुंचे। स्टेशन से सभी पैदल ही रेलवे लाइन होते हुए मोहल्ला श्रीनगर जा रहे थे। नगर पालिका व सिटी स्टेशन के बीच तीन युवक चांदनी के पास से गुजरे और उनके गले में पड़ी चेन खींचकर भागने लगे। चेन के साथ सोने का पैंडल भी था। महिला ने शोर मचाया। इस पर पीछे चल रहे पिता व पति ने तीनों का पीछा किया। दीवार फांद कर तीनों तालाब चौराहा की ओर भाग रहे थे। शराब की दुकान के पास लोगों की मदद से एक युवक को पकड़ लिया। इसी ने चेन तोड़ी थी। लोगों ने युवक की जमकर पिटाई की। तब तक पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। आरोपित युवक ने अपना नाम पवन निवासी नाई का नगला बताया। उसके पास से लूटा गया सोने का पैंडल भी मिल गया।

रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए हरवंश ने तहरीर दी। चूंकि लूटपाट रेलवे लाइन पर हुई थी, इसलिए कोतवाली सदर में रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई। हाथरस गेट थाने को मामला रेफर किया गया, लेकिन हाथरस गेट पुलिस ने भी अपना क्षेत्र न होने की बात कही। इसके बाद पुलिस ने जीआरपी हाथरस सिटी को सूचित किया। रात तक घटना की रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई थी।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Edited By: Jagran