जासं, हाथरस : मथुरा-छपरा एक्सप्रेस में शुक्रवार की रात पत्नी के साथ छेड़छाड़ का विरोध करने पर ट्रेन से धक्का देकर मार दिए गए वेंडर के मामले में रेलवे पुलिस ने अब मृत वेंडर की पत्नी को पूछताछ के लिए बुलाया है। इसके अलावा गठित चार टीमों ने वेंडर के साथी वेंडरों से पूछताछ की। टीमों ने कासगंज, मथुरा और आगरा के कई संभावित स्थानों पर दबिश भी दी मगर आरोपित का सुराग नहीं लगा।

कासगंज के शांतिपुरी कालोनी निवासी 35 वर्षीय राकेश कुमार पुत्र रामचरन मथुरा के छावनी रेलवे स्टेशन पर पकौड़े बेचते थे। शुक्रवार की रात वह कासगंज से मथुरा-छपरा एक्सप्रेस में पत्नी प्रीति के साथ मथुरा जा रहे थे। कासगंज से ही उनके साथ एक और युवक ट्रेन में सवार हुआ। आरोप है कि वह युवक राकेश की पत्नी के साथ छेड़छाड़ करने लगा। उस समय वेंडर सो रहा था। पत्नी ने उसे जानकारी दी तो उसने छेड़छाड़ कर रहे युवक का विरोध किया। इस बात को लेकर दोनों के बीच झगड़ा हो गया। शराब के नशे में धुत आरोपित युवक ने वेंडर राकेश के साथ मारपीट की। राकेश की पत्नी ने उसे बचाने की कोशिश की मगर इतने में शराबी ने राकेश को धक्का देकर चलती ट्रेन से गिरा दिया था, जिससे मेंडू रोड पर कोमल सिटी के पास ट्रेन से गिरने से उनकी मौत हो गई थी। ट्रेन के हाथरस सिटी स्टेशन पर रुकते ही आरोपित उतरकर भाग गया था।

जीआरपी प्रभारी जयप्रकाश के मुताबिक घटना शुक्रवार की रात करीब 10.20 बजे घटित हुई। तब राकेश की पत्नी ने न तो किसी स्टेशन पर घटना की जानकारी दी और न ही आरोपित के हाथरस सिटी स्टेशन से उतरकर भागने की जानकारी दी थी। घटना के बाद उसने फोन से राकेश के एक दोस्त को बताया था। कई बिदुओं पर पत्नी से पूछताछ की जानी है। मृत वेंडर के साथियों से पूछताछ चल रही है।

वेंडर का कातिल घटना को अंजाम देने के बाद हाथरस सिटी स्टेशन पर उतरकर चला गया। कातिल तक पहुंचने के लिए जब टीमें हाथरस सिटी स्टेशन पर सीसीटीवी कैमरे खंगालने आईं तो सीसीटीवी के तार टूटे मिले और थाने में रखा कंट्रोल रूम बंद था। जीआरपी प्रभारी के अनुसार कई बार सीसीटीवी के तारों को बंदर कुतर गए हैं। फिलहाल सीसीटीवी बंद है।

Edited By: Jagran