जागरण संवाददाता, हाथरस : बढ़ती आबादी व वाहनों की संख्या को ध्यान में रखते हुए तेल कंपनियां बड़ी संख्या में पेट्रोल पंप खोलने जा रही हैं। चार साल बाद कंपनियों ने आवेदन मांगे हैं। क्षमता के अनुसार जिले में अभी 81 पेट्रोल पंप और बनने हैं। इसके लिए कंपनियों ने प्रक्रिया शुरू कर दी है। ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के बाद लकी ड्रा के जरिए रिटेल डीलरशिप दी जाएगी।

इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड के प्रबंधक (रिटेल सेल्स) प्रदीप कुमार ने बताया कि पारदर्शिता लाने के लिए लकी-ड्रा की व्यवस्था पहली बार लागू हुई है। पहले इंटरव्यू के जरिए चयन होते थे। एलपीजी में 2016 से लकी-ड्रा सिस्टम हुआ था। पेट्रोल-डीजल की रिटेल सेल्स के लिए इस बार से लकी-ड्रा सिस्टम शुरू हो रहा है। पहले प्रभावशाली लोग ही पेट्रोल पंप ले पाते थे। इस बार आम नागरिकों को मौका मिलेगा। प्रदीप कुमार ने बताया कि जिले में विभिन्न कंपनियों के 86 पेट्रोल पंप हैं, जो कि क्षमता से कम हैं। इसे ध्यान में रखते हुए प्रत्येक कंपनी ने टार्गेट रखे हैं। इंडियन ऑयल के 28, भारत पेट्रोलियम के 35 व ¨हदुस्तान पेट्रोलियम के 18 पंप खोले जाएंगे। उन्होंने बताया कि पेट्रोल पंप डीलर चयन के नाम से वेबसाइट दी गई है। इस वेबसाइट पर 25 नवंबर से आवेदन खुले हुए हैं तथा 24 दिसंबर तक आवेदन लिए जाएंगे। वेबसाइट पर आवेदक को रजिस्ट्रेशन कराना होगा। जरूरी जानकारी भरने के बाद फोटो व सिग्नेचर अपलोड करने होंगे। आवेदन आने के बाद लकी-ड्रा निकलेंगे। चयन होने के बाद अन्य औपचारिकताएं पूर्ण कराई जाएंगी।

नए पेट्रोल पंप ऐसे स्थानों पर खोले जाएंगे, जहां आसपास पंप न हो। गांव देहात को भी इसमें रखा गया है, जिससे ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को भी सुविधा हो सके। इससे लोगों को ईंधन के लिए अब दूरी नापने की जरूरत नहीं होगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप