संवाद सहयोगी, हाथरस: मुरसान से लापता हुई युवती गुरुवार को थाने पहुंच गई। जहां परिजन अपहरण का आरोप लगा रहे थे, वहीं युवती ने कहा कि वह अपनी मरजी से गई थी। उसने स्पष्ट शब्दों में कहा कि वह प्रेमी के साथ रहना चाहती है। पुलिस ने लड़की का चिकित्सीय परीक्षण कराया है। बयान के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

घटना बुधवार की है। बीएससी की छात्रा कस्बे के ही एक स्कूल में पढ़ाती थी। इस स्कूल के डायरेक्टर के साले से उसके प्रेम संबंध स्थापित हो गए। लड़की ने इसके बाद पढ़ाना छोड़ दिया। बुधवार को युवती अचानक लापता हो गई। परिजनों ने काफी तलाशा। जब पता चला कि युवक भी लापता है तो वे सीधे थाने पहुंचे। उन्होंने स्कूल के डायरेक्टर व उसके साले ¨पटू निवासी मथुरा के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया। पुलिस ने शादी के लिए बहला-फुसला कर ले जाने की धारा में मामला दर्ज किया। लड़की के परिजनों का आरोप था कि स्कूल का डायरेक्टर व उसका साला उनकी बेटी को जबरन गाड़ी में डालकर ले गए हैं। पुलिस युवती की तलाश में जुटी थी। दबाव के चलते गुरुवार को युवती खुद ही थाने पहुंच गई तथा सारी कहानी से पुलिस को अवगत कराया। एसएचओ एनपी ¨सह ने बताया कि युवती अपनी मरजी से गई थी। उसने अपहरण की बात से इंकार किया है। मेडिकल कराया गया है। कोर्ट में बयान होने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। युवक की तलाश की जा रही है।

Posted By: Jagran