संवादसूत्र, हाथरस : सिकंदराराऊ में मथुरा-कासगंज ट्रैक पर स्थित सिकंदराराऊ स्टेशन के पास पेट्रोलियम वैगन ट्रेन बुधवार की देर रात खड़ी हो गई। यह मालगाड़ी गुरुवार देर रात तक वहीं खड़ी रही। इसके चलते स्टेशन से कासगंज की तरफ स्थित गढ़ी बुंदूखां रेलवे क्रासिग बंद रही। इस मार्ग से गुजरने वालों को घूमकर दूसरे मार्ग से गुजरना पड़ा।

पूर्वोत्तर रेलवे की कासगंज-मथुरा रेलवे लाइन पर बुधवार की रात पेट्रोलियम वैगन ट्रेन कासगंज की तरफ से चलकर मथुरा की ओर जा रही थी। रात करीब 12:15 मालगाड़ी सिकंदराराऊ रेलवे स्टेशन से थोड़ा पहले गेट नंबर 278 बीटी गढ़ी बुंदू खां-मोहनगढ़ी क्रासिग के पास खड़ी हो गई। इससे क्रासिग बंद हो गई। चालक और गार्ड ड्यूटी समाप्त होने पर ट्रेन को वहीं छोड़कर चले गए। दूसरे चालक और गार्ड को ट्रेन पर आना था मगर वे नहीं आए। ट्रेन के क्रासिग गेट पर रात से दूसरे दिन भी खड़े रहने के कारण गेट खुला ही नहीं। एएसएम सतीशचंद्र शर्मा ने बताया कि ड्यूटी बदलने के कारण दूसरे चालक व गार्ड के नहीं आने पर ट्रेन वहां खड़ी थी। इस संबंध में उच्चाधिकारियों को बता दिया गया है। गनीमत यह रही कि इस क्रासिंग के बंद होने से विकल्प मार्ग पास ही है, जिससे लोगों को बहुत परेशानी नहीं हुई, मगर रेलवे के चालक की लापरवाही जरूर सामने आई है। हादसे में हेड कांस्टेबल घायल

संसू, सासनी : हाथरस गेट कोतवाली में तैनात 55 वर्षीय हेड कांस्टेबल देवेंद्र निवासी अलीगढ़ बाइक से हाथरस जा रहे थे। हनुमान चौकी के निकट मोड़ पर किसी जानवर से टकराकर उनकी बाइक फिसल गई। घायल हेड कांस्टेबल को उपचार के लिए अलीगढ़ भेजा गया है। तारीख पर आए ग्रामीण

के साथ की मारपीट

संसू, सादाबाद : थाना चंदपा के गांव नगला बांस निवासी बलवीर सिंह ने कोतवाली में तहरीर दी है। इसमें कहा है कि गुरुवार को दोपहर 12 बजे वे मुकदमे की तारीख करने सादाबाद की कचहरी आए थे। वहीं पर मुकदमा की देखरेख कर रहे उनके गांव के ही कुछ लोगों ने उन्हें पीटा और जान से मारने की धमकी दी।

Edited By: Jagran