जासं, हाथरस : बिजली के बड़े बकायादारों पर विभाग शिकंजा कसने जा रहा है। शहर में चार करोड़ का बकाया होने पर नौ सौ लोगों के खिलाफ खिलाफ आरसी जारी की गई है। अब इनसे राजस्व विभाग की मदद से वसूली की जाएगी।

जनपद में बिजली विभाग का 50 हजार से अधिक लोगों पर 200 करोड़ रुपये बकाया चल रहा है। इसमें नलकूप और घरेलू कनेक्शन धारक भी शामिल हैं। इस बकाया को लेकर समीक्षा बैठकों में कई बार खिचाई हो चुकी है। इसके बावजूद लाइन लास और बकाया बढ़ता जा रहा है।

सैकड़ों पर आरसी जारी : अकेले शहर की बात करें तो लगभग नौ सौ लोग ऐसे हैं, जिन पर चार करोड़ रुपये का बकाया चल रहा है। इनपर एक लाख और उससे अधिक का बकाया है। इनमें अधिकांश लोग ऐसे हैं जिन्होंने तीन बार ओटीएस की तिथि बढ़ने के बावजूद बिल जमा नहीं किए। बकाया होने पर कनेक्शन काटे गए और मीटर तक उखाड़ दिए गए हैं, उसका भी असर नहीं है। नोटिसों को नजर अंदाज करने पर ऐसे शहरी नौ सौ उपभोक्ताओं के खिलाफ आरसी जारी की गई है। वर्जन--

लगातार नोटिस और कनेक्शन काटने की कार्रवाई के बाद भी बकाया जमा नहीं कर रहे हैं। अब ऐसे लोगों के खिलाफ आरसी जारी की जा रही है। अब तक नौ सौ लोगों के खिलाफ चार करोड़ की आरसी जारी हो चुकी है।

-सुभाष चंद्र, अधिशासी अभियंता किसानों के धरने को समर्थन

संसू, सिकंदराराऊ : समाजवादी पार्टी के पूर्व जिला महासचिव ठाकुर महेंद्र सिंह सोलंकी ने सिकंदराराऊ तहसील पर भारतीय किसान यूनियन की मासिक बैठक और धरना प्रदर्शन में पहुंचकर समर्थन दिया। भारतीय किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष चौधरी मलखान सिंह ने कहा कि किसान की स्थिति बहुत दयनीय है। फसलों का वाजिब मूल्य नहीं मिल रहा है। खाद, बीज, डीजल के दाम आसमान छू रहे हैं। पूर्व ब्लाक प्रमुख डंबर सिंह, समाजवादी पार्टी के जिला उपाध्यक्ष गिनेश यादव, रामेश्वर पहलवान जिला पंचायत सदस्य, किसान नेता निशांत चौहान, हरवीर सिंह तोमर आदि मौजूद थे।

Edited By: Jagran