जागरण संवाददाता, हाथरस : जिस घड़ी का पूरे एक साल इंतजार होता है, वह आ गई है। ग्यारह माह के इंतजार के बाद ब्रज प्रसिद्ध लक्खी मेला दाऊजी महाराज की अनौपचारिक शुरुआत गणेश चतुर्थी अर्थात गुरुवार से होगी। सुबह एनसीसी व स्काउट रैली निकाली जाएगी। गणेश पूजन, कलश स्थापना के साथ ध्वज पूजन कर मंदिर की प्राचीर पर ध्वजारोहण भी किया जाएगा। मेले का औपचारिक उद्घाटन बल्देव छठ यानि 15 सितंबर को होगा।

राजा दयाराम के ऐतिहासिक किला परिसर में इस बार दाऊजी मेले का 107वां महोत्सव आयोजित किया जा रहा है। झूले, खेल तमाशे वाले, चाट पकौड़ी वालों के अलावा महिला बाजार भी सज गया है। बिजली की झालरों से मंदिर की प्राचीर के अलावा पूरे परिसर को सजाया गया है। चहुंओर पुलिस की पुख्ता व्यवस्था की गई है। गुरुवार से पूरे परिसर की बिजली भी चालू हो जाएगी।

मेले का विधिवत शुभारंभ तो शनिवार को बल्देव छठ से होगी। उसी दिन छह दिवसीय कुश्ती दंगल का उद्घाटन भी प्रदेश के ऊर्जामंत्री श्रीकांत शर्मा करेंगे। सभी अखाड़े, उस्ताद खलीफाओं को निमंत्रण भेजा जा चुका है। दंगल से पूर्व हनुमान जी महाराज की सवारी के साथ अखाड़े का पूजन व ध्वजारोहण भी किया जाएगा। मेले में झूले आदि का ट्रायल हो चुका है। बुधवार को छोटी-मोटी कमियों को दूर किया जा रहा था। अधिकारियों ने भी कई चक्र का निरीक्षण कर लिया है। शिविर भी सज चुके हैं। सीसीटीवी कैमरों सुसज्जित मेला परिसर में इस बार पुलिस फोर्स भी ज्यादा है।

Posted By: Jagran