जासं, हाथरस : ऑल इंडिया बैंक इंप्लाइज एसोसिएशन, बैंक इंप्लाइज फेडरेशन ऑफ इंडिया, यूनाइटेड फोरम ऑफ आरआरबी यूनियंस एवं जीवन बीमा निगम द्वारा केंद्र सरकार की आर्थिक एवं श्रम नीतियों के विरुद्ध मंगलवार को ग्रामीण बैंक ऑफ आर्यावर्त तथा राष्ट्रीयकृत बैंकों के कर्मचारी हड़ताल पर रहे। उधर प्रधान डाकघर पर भी कर्मचारियों ने प्रदर्शन कर विरोध जताया।

कर्मचारियों ने ग्रामीण बैंक ऑफ आर्यावर्त के अलीगढ़ रोड स्थित क्षेत्रीय कार्यालय पर प्रदर्शन किया। एलआइसी ऑफिस और मुख्य डाकघर के बाहर भी कर्मचारियों ने जमकर नारेबाजी और प्रदर्शन किया। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया तथा इंडियन ओवरसीज बैंक के कर्मचारी हड़ताल पर नहीं थे क्योंकि उनके संगठनों ने हड़ताल का आह्वान नहीं किया था। हड़ताल के कारण बैंकों में कामकाज ठप रहा।

हड़ताली कर्मचारियों को संबोधित करते हुए यूपी बैंक इंप्लाइज यूनियन के प्रांतीय सहायक महामंत्री बीएस जैन ने कहा कि केंद्र सरकार की नीतियां पूंजीवादी समर्थक रही हैं। मजदूर विरोधी कानून बनाए जा रहे हैं। ग्रामीण बैंक ऑफ आर्यावर्त अधिकारी एसोसिएशन के महामंत्री पदम ¨सह, एडीआइईए के मंत्री मुकेश बाबू व अलीगढ़ डिवीजन इंश्योरेंस इंप्लाइज एसोसिएशन के अध्यक्ष राजीव गर्ग ने केंद्र सरकार की श्रम विरोधी नीतियों की आलोचना की। जीके शर्मा, जीए शर्मा, मधुमाला, संतोष कुमार, श्रीकांत गर्ग एवं राजीव आर्य आदि ने हड़ताली कर्मचारियों को संबोधित किया। हड़ताल में राकेश वर्मा, डीसी गुप्ता, देवेंद्र कुमार, संजय जैन, नन्नू मल, अशोक कुमार शर्मा, यतेश गर्ग, अनेक ¨सह, हुकुम ¨सह, ओपी खंडेलवाल आदि की सक्रिय भूमिका रही।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस