संस, हाथरस : सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए परिवहन विभाग ने अभियान चलाकर वाहनों पर रिफ्लेक्टिव टेप लगाए। स्कूलों में बच्चों को यातायात के नियमों का पालन करने की शपथ दिलाई गई।

परिवहन विभाग ने 22 से 28 जुलाई तक सड़क सुरक्षा सप्ताह मनाया। इसके बाद बुधवार को मेंडू रोड पर करीब 50 से भी अधिक वाहनों पर रिफ्लेक्टिव टेप लगाए। साथ ही वाहन चालकों को वाहनों के आगे पीछे रिफ्लेक्टिव टेप लगाने व सुरक्षा के सभी आवश्यक इंतजाम पूरे रखने के साथ बिना सीट बेल्ट, हेलमेट के वाहन नहीं चलाने के लिए वाहन चालकों को जागरूक किया गया। सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी प्रशासन नीतू सिंह ने बताया कि सड़क दुर्घटनाओं को कम करने के लिए सड़क सुरक्षा सप्ताह का आयोजन किया जाता है। इस बार साल का पहला सप्ताह 22 से 28 जुलाई तक मनाया गया। आरआइ ने दिलाई आनलाइन शपथ

सासनी : सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत परिवहन विभाग के संतोष कुमार ने सीमेक्स इंटर नेशनल स्कूल के स्टाफ एवं बच्चों को बुधवार के दिन आनलाइन शपथ दिलाई। आरआइ ने बताया कि दोपहिया वाहन चलाते समय हेलमेट एवं चार पहिया वाहन चलाते समय सीट बेल्ट का प्रयोग अवश्य करना चाहिए। शराब पीकर गाड़ी नहीं चलाना चाहिए। ड्राइविग लाइसेंस एवं वाहन के समस्त प्रपत्र साथ अवश्य रखें। इसमें प्रधानाचार्य मुकेश कुमार शर्मा, निदेशक अरुण कुमार सिंह व चेयरपर्सन सीमा सिंह मौजूद थे।

दो युवतियों समेत

तीन को भेजा जेल

संसू, सिकंदराराऊ : कोतवाली पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर दबिश देकर कस्बा के मोहल्ला नगला शीशगर से महिला पर तेजाब डालने के आरोप में वांछित चल रहीं दो युवतियों समेत तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। पुलिस के अनुसार रेशमा पत्नी विनोद निवासी मोहल्ला नगला शीशगर ने 10 जुलाई को रिपोर्ट दर्ज कराते हुए कहा था कि वह अपने घर के सामने बैठी थी। उसी दौरान मोहल्ले के ही चार लोग आए और पुराने विवाद को लेकर गाली गलौज करने लगे । पीड़िता ने जब गाली गलौज का विरोध किया तो आरोपितों ने उसके साथ मारपीट करते हुए उसकी आंख में तेजाब डाल दिया, जिससे आंखों में गंभीर चोट आई है। पीड़िता के शोर मचाने पर मोहल्ले के लोगों को आते देख आरोपित भाग गए थे। पुलिस ने फरार चल रहे आरोपित संजू पुत्र सुरेश, सोनी पुत्री सुरेश व आरती पुत्री संजू निवासीगण मोहल्ला नगला शीशगर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

Edited By: Jagran