जागरण संवाददाता, हाथरस: गांव की सरकार के गठन के लिए दो मई को परिणाम आने के बाद शपथ लेने का इंतजार कर रहे विजेताओं के लिए अच्छी खबर है। ग्राम प्रधान के पद का चुनाव जीतने वालों का अब इंतजार समाप्त हो गया है। पंचायती विभाग ने प्रस्ताव में 12 मई को शपथ ग्रहण की बात की थी, लेकिन गांवों में तेजी से फैल रहे कोरोना के मद्देनजर हर कार्यक्रम पर रोक लगा दी थी, मगर अब अच्छी खब ये है कि हाथरस में सदस्यों का बहुमत पा चुके 197 प्रधान 25 मई को वर्चुअल माध्यम से शपथ लेंगे। ये जानकारी जिला पंचायत राज अधिकारी बनवारी सिंह ने दी।

हाथरस में 15 अप्रैल को पंचायत चुनाव संपन्न हुए। इसके बाद वोटों की गिनती 2 मई को शुरू हुई। इंतजार के बाद ग्राम प्रधान व पंचायत सदस्यों के शपथ ग्रहण की तारीख तय हो गई है। डीपीआरओ के अनुसार 25 मई को वर्चुअल माध्यम से शपथ कराई जाएगी। हाथरस में 197 प्रधान और 2122 पंचायत सदस्यों को शपथ दिलाई जाएगी। इसके साथ ही परिणाम में बहुमत न जुटा पाने के कारण 266 ग्राम प्रधान का चुनाव जीतने के बाद भी शपथ लेने से वंचित रहेंगे।

अपर मुख्य सचिव पंचायतीराज मनोज कुमार सिंह ने सभी जिलाधिकारियों को निर्देशित किया है कि कोविड प्रोटोकॉल का अनुपालन करते हुए शपथ दिलाने की समस्त औपचारिकताओं को पूर्ण कर लें। उन्होंने कहा कि उन ग्राम पंचायतों को अधिसूचित नहीं किया जाएगा, जहां से ग्राम प्रधान व कम से कम दो तिहाई सदस्य निर्वाचित नहीं हुए हैं। अर्थात सदस्य का दो तिहाई होना अनिवार्य है। उन्होंने बताया कि वर्चुअल शपथ के लिए लैपटॉप आदि की व्यवस्था की जाएगी। इसके लिए ग्राम पंचायत सचिवगण सहयोग करेंगे। नवनिर्वाचित प्रतिनिधियों को जिलाधिकारी के नामित अधिकारी वीडियो कांफ्रेसिग या वर्चुअल माध्यम से शपथ दिलवाएंगे। उन्होंने बताया कि प्रतिनिधि अपने ग्राम पंचायत में ही पंचायत घर, सामुदायिक भवन या ग्राम पंचायत क्षेत्र के कॉमन सर्विस सेंटर में शपथ लेंगे।

Edited By: Jagran