हरदोई (जेएनएन)। प्रदेश सरकार में पिछड़ा कल्याण एवं दिव्यांग सशक्तीकरण विभाग के कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर, अति पिछड़ों की हिस्सेदारी को लेकर अपनी सरकार से दो-दो हाथ करने को तैयार हैं।
उन्होंने अति पिछड़ों को 27 फीसद ओबीसी आरक्षण में बराबर की हिस्सेदारी, गरीबों को आर्थिक आधार पर आरक्षण दिए जाने की सरकार से मांग उठाई। भाजपा द्वारा चलाए जा रहे गंगा सफाई अभियान को लूट अभियान करार दिया।

गंगा सफाई का 38 हजार करोड़ रुपया गरीबों की शिक्षा में लगा दिया होता तो नौजवान पढ़-लिखकर रोजगार पा जाता। अखिल भारतीय अर्कवंशी क्षत्रिय महासंघ ट्रस्ट भारत द्वारा आयोजित अर्कवंशी राजभर सामाजिक एकता सम्मेलन में उन्होंने कहा कि भाजपा से समझौता करते समय अति पिछड़ों की हिस्सेदारी पर बात हुई थी, लेकिन अब तक अति पिछड़ों को 27 फीसदी ओबीसी आरक्षण में बराबर की हिस्सेदारी नहीं मिली है।

इसे लेकर 27 को लखनऊ में सम्मेलन बुलाया गया है, जिसमें आगे की रणनीति बनाई जाएगी। उन्होंने गरीबों को आर्थिक आधार पर आरक्षण दिए जाने की मांग उठाई। उन्होंने भाजपा, सपा, कांग्रेस व बसपा पर अति पिछड़ों के शोषण का आरोप लगाया है।

उन्होंने समाजवादी सेक्युलर मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव के बारे में कहा कि लोग समझ रहे हैं कि शिवपाल सिंह यादव पर भाजपा का हाथ हैं। उन्होंने भाजपा द्वारा राजा भैया को तवज्जो दिए जाने व अलग पार्टी बनवाए जाने के मुद्दे पर कहा कि सवर्ण गुस्से में है इसलिए इस मुद्दे को ठंडा करने के लिए यह सब किया जा रहा है।

Posted By: Ashish Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप