हरदोई : निर्धारित समय से पहले विद्यालय बंद करना शिक्षिकाओं को महंगा पड़ गया। सीडीओ के निरीक्षण के समय दोनों शिक्षिकाएं समय से पहले विद्यालय बंद कर घर जाती मिली थीं। जिस पर बीएसए ने दोनों शिक्षिकाओं का वेतन अग्रिम आदेशों तक रोकते हुए एक सप्ताह में जवाब तलब किया है।

सीडीओ आनंद कुमार ने बीएसए को निर्देशित करते हुए कहा कि दो जनवरी को 2 बजकर 50 मिनट पर सुरसा के ज्ञानपुरवा स्थित प्राथमिक विद्यालय का निरीक्षण किया गया था। इस दौरान सहायक अध्यापक वंदना कटियार व कंचन यादव समय से पहले विद्यालय बंद कर घर जाती मिली थी। शिक्षिकाएं समय से पहले विद्यालय बंद करने का संतोषजनक जवाब नहीं दे सकीं। विद्यालय में प्रधानाध्यापक उमेश चंद्र मिश्रा, सहायक अध्यापक नमिता दिवाकर अवकाश पर थे। सीडीओ के निर्देश पर बीएसए ने दोनों शिक्षिकाओं का वेतन रोक दिया और एक सप्ताह में स्पष्टीकरण उपलब्ध कराने को कहा है।

Posted By: Jagran