हरदोई : पिहानी ब्लॉक प्रमुख उप चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने स्वर्णलता ¨सह को समर्थन देने की घोषणा कर बाकी दावेदारों को मायूसी हाथ आई है। कई दावेदारों ने चुनाव लड़ने से मना कर दिया है। अब तो संकेत मिले उससे स्वर्णलता ¨सह निर्विरोध ब्लॉक प्रमुख बनने की बात सामने आ रही है।

शराब व्यवसायी जय प्रकाश गुप्ता की पत्नी सरिता गुप्ता के विरुद्ध करीब पांच माह पूर्व कोटरा ग्राम सभा के प्रधान मनोज ¨सह अविश्वास प्रस्ताव लाए थे और वह अविश्वास प्रस्ताव पारित भी हुआ। जिस दिन अविश्वास पारित हुआ उसी दिन स्वर्णलता ¨सह ने क्षेत्र पंचायत सदस्य की शपथ भी ली। वह अंबारी ग्राम सभा से उपचुनाव में निर्विरोध क्षेत्र पंचायत सदस्य चुनी गई थी। स्वर्णलता ¨सह के मनोज ¨सह जेठ हैं। चुनावी घोषणा होने के बाद से भाजपा का समर्थन पाने के लिए जहां मनोज ¨सह लगे थे, वहीं मंसूरनगर से क्षेत्र पंचायत सदस्य सुमन द्विवेदी के पति विनोद द्विवेदी भी ऐड़ी चोटी का जोर लगाए थे। साथ ही पिछले दरवाजे से जय प्रकाश गुप्ता भी अपनी क्षेत्र पंचायत सदस्य पुत्री अंजू गुप्ता के लिए दस्तक लगाए थे। मंगलवार को भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीकृष्ण शास्त्री ने पार्टी बैठक के बाद भाजपा से पिहानी ब्लाक प्रमुख पद के लिए मनोज ¨सह की बहू स्वर्णलता ¨सह पत्नी गजेंद्र ¨सह को समर्थन देने की घोषणा की है। गुरुवार को नामांकन, शुक्रवार को नाम वापसी और शनिवार को मतदान की प्रक्रिया में प्रबल संभावनाएं हैं कि शुक्रवार को ही यह चुनावी प्रक्रिया संपन्न हो जाए, क्योंकि सभी दावेदार सत्ता के दम पर चुनाव लड़ना चाह रहे थे।

.तो संगठन पड़ा भारी : स्वर्णलता ¨सह को भाजपा के समर्थन को लेकर जनप्रतिनिधि से लेकर संगठन तक कई फाड़ थे। मनोज ¨सह देखने में तो सभी को साधे थे, लेकिन उनका संगठन के प्रति ज्यादा झुकाव था। जनप्रतिनिधि अंदरखाने कई को लड़ा रहे थे। काफी उहापोह वाली स्थिति थी। दो दिन पूर्व पिहानी ब्लाक में कई दावेदार क्षेत्र पंचायत सदस्यों से संपर्क कर रहे थे लेकिन मनोज ¨सह को संगठन पर भरोसा था और आखिर वही हुआ। जो अन्य लोग जुगाड़ से टिकट चाह रहे थे उनकी नहीं चली।

Posted By: Jagran