हरदोई : डीएम पुलकित खरे ने बताया कि रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय भारत सरकार द्वारा यूरिया पर लगने वाली अतिरिक्त कर (एसीटीएन) के समाप्त करने के उपरांत किसानों को घटी दर पर यूरिया उर्वरक उपलब्ध कराया जाएगा। उर्वरक की कालाबाजारी व अधिक दरों पर बिक्री करने वाले विक्रेताओं के विरुद्ध उर्वरक नियंत्रण अधिनियम के तहत कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने किसानों से कहा है कि यूरिया उर्वरक की 45 किलोग्राम की बोरी 299 रुपये 50 पैसे के स्थान 266 रुपये 50 पैसे की दर से तथा 50 किलोग्राम की बोरी 330 रुपये 50 पैसे के स्थान पर 295 रुपये 50 पैसे खुदरा मूल्य पर उपलब्ध कराई जाएगी। डीएम श्री खरे ने कहा कि जनपद में निजी क्षेत्र के थोक एवं फुटकर उर्वरक विक्रेताओं एवं सरकारी क्षेत्र के बिक्री केंद्रों तथा सहकारी समितियों पर पुरानी दरों से यूरिया उर्वरक पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है जिनके बैग पर अधिकतम खुदरा मूल्य अंकित है, इसलिए इन अंकित मूल्यों के स्थान पर नई घटी दरों पर उर्वरक बिक्री के लिए जनपद के विभिन्न विभागों के क्षेत्रीय कर्मचारियों को समस्त उर्वरक बिक्री केंद्रों पर तैनात कर उनकी देखरेख एवं उपस्थित में यूरिया उर्वरक उपलब्ध कराया जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप