भरावन (हरदोई) : अतरौली क्षेत्र में बुधवार की देर रात्रि दो गांवों के लोगों के बीच हुई मारपीट और तोड़फोड़ की खबर से सनसनी फैली रही। इस मामले में पुलिस ने पूर्व प्रधान समेत 11 लोगों पर घर में घुसकर मारपीट और तोड़फोड़ की एफआइआर दर्ज की है, वहीं उनके चालक ने दूसरे पक्ष के पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। गुरुवार को भी गांव में पुलिस फोर्स रही।

रायपुर के पूर्व प्रधान ब्रजेंद्र सिंह का चालक राजू ट्रैक्टर- ट्राली में गोडवा बाजार से मौरंग भरकर जा रहा था। पड़ोसी गांव शंकरपुर से ट्रैक्टर-ट्राली लेकर राजू निकला। शंकरपुर के रबील की बकरी घर के बाहर बंधी थी, जिस पर ट्रैक्टर का पहिया चढ़ गया और बकरी का पैर टूट गया। इससे नाराज रबील और उसके गांव के लोगों ने चालक राजू के साथ गाली-गलौज किया।। राजू किसी तरह वहां से निकल कर रायपुर पहुंचा और पूर्व प्रधान को पूरी घटना की जानकारी दी, जिसके बाद पूर्व प्रधान अपने साथियों के साथ शंकरपुर पहुंच गए। दोनों गांव के लोग-आमने सामने आ गए। पूर्व प्रधान के साथियों ने शंकरपुर में घर में घुसकर तोड़फोड़ की। थाना प्रभारी महेश पांडेय पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने रबील की तहरीर पर पूर्व प्रधान ब्रजेंद्र सिंह समेत 11 और दूसरे पक्ष से राजू की तहरीर पर पुलिस ने पांच लोगों पर एफआइआर दर्ज कर ली है।

महिला का फंदे पर लटकता मिला शव

-माधौगंज : कछौना क्षेत्र के ग्राम मवई की इंद्रा छह माह से अपनी बहन रूदामऊ की विनीता के घर पर रहती थी। बहन विनीता ने बताया कि इंद्रा मानसिक मंदित थीं। गुरुवार दोपहर में इंद्रा ने घर में नीम के पेड़ में साड़ी से फांसी लगाकर जान दे दी। उनकी पति राजेश दिल्ली में मजदूरी करता है। इंद्रा के तीन पुत्र और एक पुत्री है। पुलिस ने जांच पड़ताल कर शव का पोस्टमार्टम कराया।

Edited By: Jagran