हरदोई : शासन की ओर से गोशाला की व्यवस्थाओं का जायजा लेने आए नोडल अधिकारी उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा. एसएसआर पंवार सोमवार को जिले में पहुंचे। विभागीय अधिकारियों से बेसहारा गोवंश संरक्षण के लिए संचालित पशुआश्रय स्थलों एवं संचालन व्यवस्था की जानकारी ली। बिलग्राम क्षेत्र में वृहद गोसंरक्षण केंद्र के साथ ही गोशालाओं का स्थलीय निरीक्षण किया।

नोडल अधिकारी ने विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक की। सीवीओ डा. जेएन पांडेय ने बताया कि 75 पशुआश्रय स्थल संचालित कराए जा रहे हैं। जबकि 55 निर्माणाधीन है। संचालित हो रहे पशुआश्रय स्थलों में पशुओं के भरण-पोषण के लिए राशि आवंटित की जा रही है। जबकि छाया एवं पानी आदि भी व्यवस्थाएं कराई गईं हैं। पशुआश्रय स्थलों का डीएम के निर्देशन में नामित अधिकारियों की ओर से नियमित निरीक्षण एवं व्यवस्थाओं का पर्यवेक्षण कराया जा रहा है। प्रति पशु 30 रुपये के हिसाब से पंचायतों को राशि आवंटित हो रही है।

इसके बाद नोडल अधिकारी मल्लावां के तेंदुआ में वृहद गोसंरक्षण केंद्र पहुंचे। वहां पर गोवंश के टैग एवं अभिलेखों में दर्ज किए जाने का मिलान कराया। इसी के साथ बेरियानजीरपुर एवं शाहपुरगंगा पशुआश्रय स्थलों का निरीक्षण किया। नोडल अधिकारी के साथ पशु चिकित्साधिकारी डा. हरिकांत एवं डा. दिलीप कुमार साथ रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप