हरदोई, जागरण संवाददाता। शाहजहांपुर मार्ग पर मस्तीपुर में लग्जरी कार अनियंत्रित होकर खाई में पलट गई। कार सवार दो भाइयों सहित एक बच्ची की मौत हो गई और चार लोग घायल हो गए। वे लोग तिलक चढ़ाकर घर लौट रहे थे। जैसे ही घरवालों को जानकारी मिली, कोहराम मच गया।

सांडी के ग्राम पिंडारी के हिम्मत अपने भाई पट्टे, भतीजे अशोक, उसकी पुत्री नेहा, हिमांशु, रामदेवी, दिनेश आदि के साथ कार से बेहटागोकुल के ग्राम बेहटाधीरा में तिलक चढ़ाने के लिए सोमवार शाम को गए थे। तिलक चढ़ाकर वापस आते समय हरदोई-शाहजहांपुर मार्ग पर ग्राम मस्तीपुर के निकट कार खाई में पलट गई। कार में सवार चालक राजू सहित नौ लोग घायल हो गए। 

पुलिस ने घायलों को निकालकर एंबुलेंस से जिला अस्पताल भिजवाया, जहां चिकित्सक ने हिम्मत, पट्टे और नेहा को मृत घोषित कर दिया। हिमांशु, रामदेवी, अशोक, दिनेश आदि का उपचार चल रहा है।

भतीजे की साली के तिलक में गया था परिवार

अशोक की बिलग्राम के मसोनामऊ के मथुरा के घर में ससुराल है। मथुरा की पुत्री की बेहटाधीरा के शोभित के साथ शादी तय हुई थी। सोमवार को तिलक चढ़ाने के लिए परिवार के सदस्यों के साथ गए थे और वापस आते समय हादसा हो गया।

कक्षा चार की छात्रा थी नेहा, परिवार के नहीं थम रहे आंसू

अशोक ने बताया कि पुत्री नेहा प्राथमिक विद्यालय में कक्षा चार की छात्रा थी और तीन भाइयों में अकेली बहन थी। पट्टे के परिवार में पत्नी, तीन बेटे और तीन बेटियां हैं। हिम्मत के परिवार में पत्नी, चार बेटी और एक बेटा है। घटना के बाद से परिवार के आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे हैं।

Edited By: Shivam Yadav

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट