हरदोई : हरदोई देहात में गांव से भी खराब जिदगी जी रहे लोगों लिए राहत की खबर है। नगर पालिका परिषद के सीमा विस्तार से अब ऐसे उपेक्षित क्षेत्रों के दिन बहुरने की उम्मीद है। सदन में सीमा विस्तार का मामला उठने पर शासन ने पालिका प्रशासन से न गर के सीमा विस्तार संबंधी पत्रावलियां तलब की थी, जिसे नगर विकास विभाग अनुभाग छह को उपलब्ध करा दिया गया। शासन की मंजूरी मिलने के उपरांत शहर का दायरा नौ वर्ग किलोमीटर बढ़कर 20.5 वर्ग किलोमीटर हो जाएगा।

नगर पालिका परिषद ने वर्ष 2010 में सीमा विस्तार की शुरुआत की थी। इसके तहत पालिका की सीमा से जुड़े अलग-अलग ग्राम पंचायतों के नौ मुहल्लों को शामिल किया गया। जिसमें जलनिकासी की व्यवस्था बेहतर करने के साथ सड़क, खड़ंजा आदि का कार्य प्रस्तावित था। पालिका प्रशासन ने इसका प्रस्ताव शासन को भेजा, लेकिन पत्रावली को शासन की मंजूरी नहीं मिल पाई। करीब 10 वर्ष बाद एक बार फिर पालिका परिषद के सीमा विस्तार की सुगबुगाहट शुरू हो गई है।

यह मुहल्ले होंगे शामिल

आजाद नगर, महोलिया शिवपार, रामनगर आंशिक, धियर महोलिया, अनंग बेहटा आंशिक, नानकगंज ग्रंट, बहलोली आंशिक व बेहटा चांद शामिल है। ग्राम पंचायतों में इन मुहल्लों की हालत काफी दयनीय है। मुहल्लों में नाली, खड़ंजा व जलनिकासी की कोई सुविधा नहीं है। ईओ बोले ..

शासन ने नगर पालिका परिषद के सीमा विस्तार से जुड़ी पत्रावलियां उपलब्ध कराने को कहा था, जिसे नगर विकास विभाग अनुभाग छह को उपलब्ध करा दिया गया है। शासन की मंजूरी मिलने के बाद सीमा विस्तार में शामिल मुहल्लों में युद्ध स्तर पर कार्य कराया जाएगा।

..रविशंकर शुक्ला, अधिशासी अधिकारी, नगर पालिका परिषद हरदोई इंसेट

जागरण ने जनता के घोषणा पत्र में रखा था सीमा विस्तार

लोक सभा चुनाव के पूर्व जनता के घोषणा पत्र में भी सीमा विस्तार को शामिल किया था। जनता की चौपाल लगाकर इसे प्रमुखता से उठाया भी था। चुनाव के बाद बुद्धिजीवी वर्ग के लोगों की मौजूदगी में सांसद जय प्रकाश को जनता का घोषणा पत्र भी सौंपा था। जोकि अब पूरा होता नजर आ रहा है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस