हरदोई : ब्रेनोबेन वंडरकिट राज्य स्तरीय अंतरविद्यालयी प्रतियोगिता में प्रतिभाग करने वाले मेधावी विद्यालयों को पुरस्कृत किया गया। प्रतिभागियों को नकद पुरस्कार के साथ मेडल व ट्राफी प्रदान की गई। पुरस्कार पाकर बच्चों के चेहरे पर खुशी की लहर दौड़ गई। कार्यक्रम में बच्चों के साथ ही उनके अभिभावक भी शामिल हुए।

ब्रेनोबेन वंडरकिट राज्य स्तरीय अंतरविद्यालयी प्रतियोगिता के तहत प्रदेश में कक्षा एक से आठ तक बच्चों की गणित, सामान्य ज्ञान, तार्किक क्षमता व स्पीड हैंडराइटिग विषय में चालीस मिनट की प्रतियोगिता 18 अगस्त को आयोजित की गई थी। पूरे प्रदेश में तीस हजार बच्चों ने प्रतियोगिता में प्रतिभाग किया था। जिसमें जनपद में 550 बच्चों ने प्रतिभाग किया था। प्रतियोगिता में प्रतिभाग करने वाले बच्चों का मूल्यांकन किया गया। मूल्यांकन के आधार पर विद्यार्थियों की मेरिट तैयार की गई। जिसमें अथर्व श्रीवास्तव स्टेट टापर रहे। रुद्रांक्ष दीक्षित ने सिटी वंडरकिट का खिताब हासिल किया। आरख मित्तल, शिवांश सिंह, अपूर्वा बाजपेई और सत्यम यादव को पांच पांच सौ रुपये का नकद पुरस्कार दिया गया। सेंट जेवियर्स स्कूल को जिले सर्वश्रेष्ठ स्कूल के रूप में चुना गया। सेंट जेम्स स्कूल को द्वितीय स्थान मिला। मंगलवार को शहर के गांधी भवन में पुरस्कार वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसका शुभारंभ दिल्ली के ब्रेनोबेन के क्षेत्रीय निदेशक एवं उत्तर प्रदेश, हरियाणा और गुजरात के मास्टर फ्रेंचाइजी अनुराग खेतान ने किया। उन्होंने प्रतिभागियों को शील्ड व नकद धनराशि प्रदान कर पुरस्कृत किया। उन्होंने कहा कि इस प्रकार की प्रतियोगिताओं से बच्चों की रुचि बढ़ती है और उनको प्रतियोगी परीक्षाओं में शामिल होने का अनुभव मिलता है। साथ ही उनके शैक्षिक स्तर में भी वृद्धि होती है। कार्यक्रम में जनपद की समृद्धि, मयुख, श्रेयांश, अपूर्व और आन्या ने दिमागी करतब दिखाकर सभी को अचंभित कर दिया। कार्यक्रम में दो सौ बच्चों को गोल्ड, सिल्वर और ब्रांज मेडल प्रदान किए गए। संजीव अग्रवाल, गोविद नानवानी, शैलेश नवलानी, संगीता नवलानी, अचला तिवारी, मनोज गुप्ता, अभिषेक गुप्ता आदि ने सहयोग किया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस