हरदोई: बघौली थाने पर पुलिस हिरासत में प्रधान के जेठ की रविवार की सुबह हालत बिगड़ गई। उनके खिलाफ वारंट जारी था और शनिवार की शाम पुलिस पकड़कर लाई थी। रविवार को ही आनन फानन जिला अस्पताल पहुंचाया गया, जहां से लखनऊ भेज दिया गया। चिकित्सक का कहना है कि उनका रक्तचाप काफी अधिक था और ब्रेन हेमरेज की आशंका है।

बघौली थाना परनवां निवासी मदनपाल (45) के छोटे भाई रामकिशोर की पत्नी रेनू ग्राम प्रधान हैं। शनिवार की शाम बघौली पुलिस मदनपाल को पकड़कर थाने लाई थी। रविवार को वह थाने पर ही थे, अचानक उनकी हालत बिगड़ गई। उसी बीच उनका छोटा भाई शंभूदयाल भी पहुंच गया। थाने पर ही बेहोश होकर गिर जाने हड़कंप मच गया। आनन फानन थानाध्यक्ष इरशाद अली उन्हें जिला अस्पताल लेकर आए लेकिन अस्पताल में उनकी हालत और बिगड़ने लगी।

बेहोशी के साथ ही एक हाथ ने भी काम करना बंद कर दिया। जिस पर ट्रामा सेंटर भेज दिया गया। थानाध्यक्ष ने बताया कि वह ट्रामा सेंटर में भर्ती हैं। शंभूदयाल ने बताया कि मदनपाल की हालत काफी गंभीर है। उन्होंने बताया कि लकड़ी कटान में कोई वारंट था, उसी में पुलिस पकड़ लाई थी। प्रधान पति बोले, घर से ठीक ले गई थी पुलिस

मदनपाल के छोटे भाई प्रधानपति रामकिशोर ने बताया कि उनका भाई कभी भी बीमार नहीं रहा और न ही कोई चक्कर आए। शनिवार की शाम ठीक हालत म ं पुलिस थाने ल गई थी, पता नहीं क्या हुआ, जो उनकी हालत खराब हो गई।

Posted By: Jagran