पिलखुवा, संवाद सहयोगी। भाजपा जिलाध्यक्ष उमेश राणा के नेतृत्व में मंगलवार को पिलखुवा के व्यापारियों और भाजपाइयों का एक प्रतिनिधिमंडल जिलाधिकारी अदिति सिंह से मिला। इस दौरान पिलखुवा के व्यापारियों की समस्याअों को उठाया गया। लोगों को बेहतर सुविधा दिलाए जाने के लिए कहा गया। बुधवार को होने वाली सभा भी स्थगित कर दी गई। हालांकि, पिलखुवा का कंट्रोलमेंट जोन अभी सील रहेगा।

बता दें कि बीते करीब एक माह से पिलखुवा नगर क्षेत्र में कोरोना के मामले मिलने के बाद से प्रशासन ने इस क्षेत्र को सील कर रखा है। बार-बार कोरोना पॉजिटिव मामले मिलने के कारण ही प्रशासन ने यह कदम उठाया है। यही कारण है कि पिलखुवा नगर में बाजार बंद हैं। मात्र जरूरी सामानों की दुकानें ही इस क्षेत्र में खुली हुई हैं। खाद्य सामग्री की होम डिलिवरी भी कराई जा रही है।

कुछ दिन पहले व्यापारियों ने अपनी समस्याओं को सोशल मीडिया पर उठाया। निर्णय लिया गया था कि बुधवार को रामलीला मैदान में समस्या को लेकर चर्चा की जाएगी। व्यापारियों का कहना है कि पिछले करीब दो माह से व्यापार ठप है और लोगों को दिक्कत आ रही है। सूचना पर पुलिस और प्रशासन सर्तक हुआ। इसके बाद मंगलवार को व्यापारी और भाजपाई जिलाध्यक्ष उमेश राणा के साथ जिलाधिकारी से मिले।

जिलाध्यक्ष उमेश राणा ने कहा कि नगर में दैनिक आवश्यकताओं की आपूर्ति बढ़ाई जाए। एटीएम बंद होने के कारण लोग पैसे नहीं निकाल पा रहे हैं। जिलाधिकारी ने आश्वासन दिलाया है कि दैनिक आवश्यकताओं की आपूर्ति को और बेहतर कराया जाएगा। एटीएम मोबाइल गाड़ियों की संख्या बढ़ाने के लिए एलडीएम को निर्देशित किया। इसके साथ साथ औषधि निरीक्षक, जिला पूर्ति अधिकारी, खाद्य औषधि विभाग के अधिकारियों को भी आवश्यक निर्देश दिए। इस दौरान महेश अग्रवाल, हरीश अग्रवाल, ललित गर्ग मोदी, राकेश चौधरी, विभू बंसल, विनय अग्रवाल, पंकज मित्तल और सुमित रोहिल्ला मौजूद रहे।

Posted By: Nitin Arora

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस