संवाद सहयोगी, गढ़मुक्तेश्वर

अवैध हथियारों के साथ बनाई गईं तीन वीडियो क्लिप महज सात दिन के अंदर वायरल होने से लोग बुरी तरह सहमे हुए हैं, जो दबी जुबान से बहादुरगढ़ क्षेत्र में अवैध हथियारों का गोरखधंधा तेजी से फल फूलने का आरोप लगा रहे हैं।

बहादुरगढ़ क्षेत्र जनपद का अति संवेदनशील इलाका माना जाता है, जहां छोटी छोटी घटना भी बड़ा रूप लेकर माहौल को सांप्रदायिकता का रंग दे डालती हैं। अगस्त 2014 में स्कूल से लौट रही छात्रा से रास्ते में हुई छेड़खानी की घटना को लेकर शरारती तत्वों ने बड़े स्तर पर उत्पात मचाकर आगजनी से लेकर जमकर तोड़फोड़ की थी, जिससे भयभीत होकर दर्जनों परिवार अपने घरों को छोड़कर दूसरे स्थानों को पलायन कर गए थे। इसके बाद भी शरारती तत्व कई बार माहौल बिगाड़ने का प्रयास कर चुके हैं, जिससे क्षेत्र में व्याप्त रहने वाले तनाव का लाभ उठाकर अवैध हथियारों का गोरखधंधा करने वाले लोग भी तेजी के साथ पांव पसार रहे हैं। इसका अंदाजा सात दिनों के भीतर अवैध हथियारों के साथ तीन वीडियो क्लिप वायरल होने की घटना से बड़ी आसानी के साथ लगाया जा सकता है।

वीडियो वायरल करने वाले एक आरोपित को तमंचा और जिदा कारतूसों के साथ गिरफ्तार कर पुलिस जेल भेज चुकी है, परंतु अभी अन्य आरोपित पकड़ से बाहर चल रहे हैं। थाना प्रभारी नीरज कुमार का कहना है कि अवैध हथियारों के साथ सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल किए जाने के आधार पर जांच पड़ताल की जा रही है, जिसमें अवैध हथियार बेचने से जुड़ा कोई भी सुराग हाथ आने पर ऐसे लोगों को चिह्नित कर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।