जागरण संवाददाता, हापुड़ : कोतवाली क्षेत्र के एक मोहल्ला निवासी अधिवक्ता व उसके ससुर से सगे चाचा व चचेरे भाई ने 50 लाख रुपये की रंगदारी मांगी। मांग पूरी न होने पर हत्या की धमकी दी। इतना ही नहीं आरोपितों ने अधिवक्ता की हत्या का भी प्रयास किया। न्यायालय के आदेश पर पुलिस ने दो आरोपितों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

मोहल्ला ज्ञानलोक कालोनी निवासी विशाल मित्तल ने बताया कि वह पेशे से अधिवक्ता हैं। आरोप है कि उसके सगे चाचा संजीव मित्तल व चचेरा भाई वाशू मित्तल आपराधिक प्रवृत्ति के लोग हैं। दोनों के खिलाफ दिल्ली व उत्तर प्रदेश के विभिन्न जनपदों में 64 से अधिक मुकदमे दर्ज हैं। दोनों आरोपित पीड़ित व दिल्ली के मालवीय नगर निवासी उसके ससुर राजेश गोयल से 50 लाख रुपये की रंगदारी मांग रहे हैं। रंगदारी न देने पर आरोपितों ने हत्या की धमकी दी है। रंगदारी मांगने के संबंध में आरोपितों की काल रिकार्डिग व मैसेज पीड़ित के पास मौजूद हैं।

आरोप है कि दो अक्टूबर 2020 को सास ने पीड़ित को फोन कर बताया कि उसके ससुर की तबीयत खराब है। इस पर पीड़ित दिल्ली ससुर के घर गया था। रात के करीब दस बजे पीड़ित ससुर के घर से लौट रहा था। घर के बाहर निकलते ही दोनों आरोपितों ने पीड़ित को घेर लिया और रंगदारी मांगी। विरोध पर आरोपितों ने पीड़ित पर असलहा से गोली चला दी। गनीमत रही कि पीड़ित बाल-बाल बच गया। इस संबंध में पीड़ित ने थाना स्तर से लेकर पुलिस अधिकारियों से शिकायत की, लेकिन पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की। इंसाफ के लिए पीड़ित ने न्यायालय की शरण ली। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक सुबोध कुमार सक्सेना ने बताया कि न्यायालय के आदेश पर आरोपित ज्ञानलोक कालोनी निवासी संजीव मित्तल व उसके पुत्र वाशू उर्फ धनंजय मित्तल के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। मामले की जांच कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस