संवाद सहयोगी, राठ : कोतवाली के कैंथा गांव में बकरियां घुसने का विरोध करने पर छोटे भाई ने पत्नी व पुत्र के साथ मिलकर बड़े भाई को कुल्हाड़ी मार घायल कर दिया। पीड़ित ने कोतवाली के रिपोर्ट दर्ज कराई है।

कैंथा गांव निवासी 65 वर्षीय अर्जुन रैकवार पुत्र सरजू ने बताया कि शुक्रवार को वह अपने खेत में लगी सब्जियों की रखवाली कर रहा था। तभी उसके भाई मुकेश ने खेत में बकरियों को छोड़ दिया। जिस पर उसने उसका विरोध किया। जिससे आक्रोशित होकर मुकेश ने अपनी पत्नी पुष्पा व पुत्र पंकज के साथ मिलकर उसे कुल्हाड़ी व डंडों से पीटकर मरणासन्न हालत में छोड़कर भाग गये। घटना के कुछ देर पहुंचे स्वजन ने उसे बेहोशी को हालत में इलाज के लिए सीएचसी राठ में भर्ती कराया। डा. प्रभात शर्मा ने बताया कि वृद्ध की हालत नाजुक होने पर उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया है। कोतवाल आशुतोष कुमार सिंह ने बताया कि मामले की जांच कराई जा रही है।

Edited By: Jagran