जागरण संवाददाता, हमीरपुर : गुरुवार को हुए बारिश से खरीफ की फसलें जलमग्न हो गईं। जिससे किसानों के चेहरों में मायूसी देखने को मिली। वहीं तेज बारिश से सड़कें भी जलमग्न नजर आईं। गौरतलब हो कि इस समय किसानों के खेतों में तिल, उड़द, मूंग, ज्वार की फसलें खड़ी हुई हैं। लेकिन झमाझम हुई इस बारिश से किसानों में मायूसी दिखाई दे रही है। किसानों का कहना है कि यदि इसी तरह से बारिश होती रही तो उनकी फसलें बर्बाद हो जाएंगी। पौथिया गांव में झमाझम बारिश से रास्ता ही जलमग्न हो गया। जिससे गुजरते हुए लोग दिखाई दिए। वहीं गांव के कई विद्यालयों में भी जलभराव हो गया। जिसके कारण स्कूली बच्चों को दलदल भरे रास्ते से होकर गुजरना पड़ा। ग्रामीणों ने बताया कि गांव के बड़े मेन नाला सड़क किनारे पटे होने के कारण सफाई नही हो पाती है। जिससे बरसात के समय ग्रामीणों को परेशानी होती हैं।

बिजली गिरने से राष्ट्रीय पक्षी की मौत

विकासखंड सुमेरपुर के टिकरौली गांव में बरसात के दौरान आकाशीय बिजली की चपेट में आकर एक राष्ट्रीय पक्षी की मौत हो गई। खेतों में पड़े इस पक्षी को ग्रामीणों ने उठाया और इसकी सूचना वन विभाग व उच्चाधिकारियों को दी। ग्रामीणों का कहना है कि बिजली की तेज गर्जना की चपेट में आकर इस राष्ट्रीय पक्षी की मौत हुई है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप