हमीरपुर (जेएनएन)। बुंदेलखंड की सूखी धरती पर चुनावी फसल काटने के लिए कांग्रेस अब जनता की दुखती रग पर हाथ रख रही है। इसी क्रम में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये जिले की समस्याओं से रूबरू हुए। साथ ही केंद्र में सरकार बनते ही उनके दर्द पर मरहम लगाने का वादा किया। कांग्रेस जिलाध्यक्ष दिनेश सिंह ने बताया कि बीते गुरुवार को सुबह 10:20 बजे उनकी कांग्रेस अध्यक्ष से फोन पर बातचीत की। इसके बाद उन्होंने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये आठ बिन्दुओं पर वार्ता की। 

पारी व आमजन को सहूलियत पर चर्चा

इस दौरान राहुल गांधी ने कहा कि बुंदेलखंड में किसानों का पूरा कर्जा माफ होना चाहिए। जिले की सबसे बड़ी समस्या अन्ना मवेशियों का जल्द समाधान किया जाए। निश्शुल्क शिक्षा व्यवस्था मिलनी चाहिए। डीजल-पेट्रोल को जीएसटी के दायरे में लाना चाहिए। किसानों की फसल का न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाया जाए। हमीरपुर जिला मुख्यालय को रेलवे ट्रैक से से जोड़ा जाए ताकि व्यापारी व आमजन को सहूलियत मिल सके। इसके अलावा बुंदेलखंड को विशेष पैकेज दिया जाए, जिससे विकास को गति मिल सके।

कांग्रेस नेतृत्व तक पहुंचा सकेंगे अपनी बात

जिलाध्यक्ष दिनेश सिंह ने बताया कि कांग्रेस अध्यक्ष ने प्रोजेक्ट शक्ति एप के बारे में बताया। इस एप को मोबाइल पर डाउनलोड करना होगा। मोबाइल से जैसे ही कोई कार्यकर्ता अपना वोटर कार्ड नंबर मैसेज करेगा वैसे ही उसका पता, बूथ आदि जानकारी पार्टी के पास पहुंच जाएगी। पंजीकरण करवाने वाले कार्यकर्ताओं को श्रेणियों में बांटा जाएगा। उनके पास पार्टी की गतिविधियों से जुड़ी जानकारियां पहुंचाई जाएंगी। बताया कि इसे आगे वेबसाइट का रूप भी दिया जा सकता है। जिससे कार्यकर्ताओं को अपनी बात सीधे कांग्रेस नेतृत्व तक पहुंचाने का मौका मिलेगा।

Posted By: Nawal Mishra