संस, भरुआ सुमेरपुर : ग्रामीण क्षेत्रों में न्याय पंचायत मवईजार में निगरानी समितियों की बैठक कर लोगों को जागरूक किया गया। ताकि बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को रोका जा सके।

जिलाधिकारी के निर्देश पर न्याय पंचायत मवईजार में कोविड-19 के अंतर्गत निगरानी समिति के पर्यवेक्षण के लिए पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ. पंकज सचान को नोडल अधिकारी नामित किया गया है। उन्होंने बताया कि डीडीओ विकास मिश्रा के निर्देश पर ग्राम पंचायत अतरार, स्वासा बुजुर्ग व बण्डा में कोविड 19 की निगरानी समिति की बैठक की गई। इसमें ग्राम की साफ-सफाई, सैनिटाइजेशन तथा लाउड स्पीकर के माध्यम से लोगों को जागरूक करने, दो गज दूरी मास्क है जरूरी स्लोगन को अपनाने और बाहर से आने वाले लोगों की सूची बनाने तथा उनको क्वांरटाइन करने के लिए आशा और एएनएम को निर्देशित किया गया। बताया कि उन्हें घर-घर जाकर सर्वे करने के निर्देश दिए गए हैं। अगर बुखार खांसी जुखाम के कोई मरीज मिलते हैं तो उनको नजदीकी चिकित्सालय में कोविड-19 की जांच करवाने और लक्षण मिलने पर आइसोलेट करने की व्यवस्था करने के निर्देश दिए गए। नोडल अधिकारी ने ग्राम पंचायत में उपलब्ध थर्मोस्कैनर से तापमान नाप कर भी देखा। निगरानी समिति की बैठक में नवनियुक्त ग्राम प्रधान अमरचंद, चिता सिंह, सचिव मनोज गुप्ता, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, आशा और सदस्य उपस्थित रहे।

Edited By: Jagran