जागरण संवाददाता, हमीरपुर : भारत बंद को लेकर मुख्यालय में जोरदार प्रदर्शन हुआ। कांग्रेसियों द्वारा बस स्टैंड के पास चक्का जाम किया गया। जुलूस निकालकर पेट्रोल पंप में तालाबंदी भी की गई। कांग्रेसियों के प्रदर्शन को देखते हुए पुलिस बल अलर्ट हो गया और पेट्रोल पंप में तालाबंदी करने वाले 24 से अधिक कांग्रेसियों को हिरासत में लेकर पुलिस लाइन में बैठा दिया। बाद में शाम करीब चार बजे उन्हें छोड़ दिया गया। वहीं सपाइयों ने भी तहसील परिसर में धरना प्रदर्शन करते हुए केंद्र व प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

कांग्रेस के जिलाध्यक्ष दिनेश ¨सह समेत कांग्रेसी कार्यकर्ता सबसे पहले बस स्टैंड के पास पहुंचे जहां पर सभी लोगों ने चक्का जाम कर जमकर नारेबाजी की। इसके बाद उन्होंने जुलूस निकालकर जमकर हंगामा किया। कांग्रेसियों के बढ़ते तेवरों को देखकर पुलिस प्रशासन भी सख्ती में आ गया। प्रदर्शन को देखते हुए भारी पुलिस बल लगाया गया था। जैसे ही कांग्रेसी एसपी कार्यालय के पास स्थित पेट्रोल पंप के पास जाने लगे तो पुलिस ने उन्हें रोक लिया। जिस पर काफी देर तक कांग्रेसियों व पुलिस के बीच नोकझोंक होती रही। न जाने पर कांग्रेसी रोड में ही बैठ गए और योगी- मोदी मुर्दाबाद के नारे लगाने लगे। कुछ कांग्रेसी पुलिस को चकमा देकर पेट्रोल पंप में जा घुसे और नारेबाजी करते हुए पेट्रोल पंप में तालाबंदी कराने लगे। कांग्रेसियों के उपद्रव को देख सीओ सदर आरके उपाध्याय, शहर कोतवाल शैल कुमार ¨सह, कुरारा एसओ महेंद्र कुमार वर्मा ने पेट्रोल पंप पहुंचकर हंगामा करने वाले दो दर्जन से अधिक कांग्रेसियों को हिरासत में लिया और भारी पुलिस बल के बीच उन्हें पुलिस लाइन ले जाया गया। लगभग 28 लोगों को पुलिस ने हिरासत में लेकर पुलिस लाइन में बैठाया। जिन्हें शाम छोड़ दिया गया। वहीं तहसील परिसर में सपाइयों ने भी धरना प्रदर्शन करके जमकर केंद्र व प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। इस दौरान लाला प्रधान, गोलू, सैय्यद उमर, कल्लू यादव, बदलू फौजी, नगर पंचायत कुरारा के अध्यक्ष श्रीकांत गुप्ता ने धरने को संबोधित किया। ध्वस्त कानून व्यवस्था के साथ साथ 17 सूत्रीय ज्ञापन एसडीएम को सौंपा।

बाजार में नहीं दिखा बंदी का असर

मुख्यालय की बाजार में भारत बंद का खासा असर देखने को नहीं मिला। ज्यादातर दुकानें खुली रहीं। वहीं लोग भी महंगाई के विरोध में घरों से बाहर नहीं निकले। मुख्य बाजार समेत, बस स्टैंड, ¨कगरोड, आकिल तिराहे स्थित सभी दुकानें संचालित देखने को मिली।

-----------------

वहीं सरीला तहसील परिसर में कई समस्याओं को लेकर प्रदर्शन किया। नायब तहसीलदार घनेन्द्र पाल को राज्यपाल संबधी ज्ञापन प्रदेश सचिव कुलदीप यादव के नेतृत्व में सौंपा गया। वहीं सपा द्वारा सदस्यता जागरूकता अभियान विद्यालयों में भी चलाया गया। इसके अलावा कांग्रेस का भारत बंद असर सरीला तहसील में देखने को नहीं मिला। कुरारा में कांग्रेस पार्टी द्वारा भारत बंद का आह्वान कस्बे में बेअसर रहा। सभी स्थानों पर पूरी मार्केट खुली रही और लोगों ने खरीदारी भी की।

Posted By: Jagran