संवाद सहयोगी, मौदहा : गुरुवार को ामलीला व कोतवाली के सामने के मैदान का अतिक्रमण भारी पुलिस बल की मौजूदगी में नगर पालिका परिषद की गैंग ने जेसीबी से हटवा दिया। कुछ स्थायी निर्माण हटाने के साथ ही टीम टप्पर व गुमटियां भी हटवायी गयीं। नोटिस को लेकर दुकानदारों और अधिकारियों की कहासुनी भी हुई।

उप जिलाधिकारी अजीत परेश व क्षेत्राधिकारी सौम्या पाण्डेय कोतवाली पुलिस बल पहुंची। दूसरी ओर से अधिशासी अधिकारी पालिका कर्मियों व जेसीबी पहुंचे और दुकानदारों को चेतावनी दी। कोतवाल राजेश चन्द्र त्रिपाठी व अधिशासी अधिकारी पुलिस बल व नगर पालिका परिषद के कर्मियों के साथ थाना चौराहा, मलिकुआं चौराहा से बड़े चौराहे तक के अतिक्रमण कारियों को चेताते हुये, सड़क के किनारे रखे बेंच, तखत हटवाते रहे। इसी बीच नगर पालिका ने माइक से घोषणा करवानी शुरू कर दी कि नाली के बाहर का अतिक्रमण हटवा लें। कोतवाली के सामने बने पक्के निर्माण के आगे उनके टीन टप्पर हटवाने के साथ आगाह किया गया कि भी अपने अतिक्रमण हटवा लें।

अतिक्रमण न हटने पर जैसे ही बूंदाबांदी बंद हुई तभी थाना चौराहा से गांधी पार्क तक के बीच के गुमटियां हटाने के साथ टीन टप्पर हटाने का अभियान शुरू हो गया। इमली के पेड़ के नीचे बने एक अस्थायी निर्माण को भी आनन फानन ढहा दिया गया। यहां रही महिला कुछ देर तक चिल्लाती रही, लेकिन महिला पुलिस पहुंचने के बाद उसे वहां से हटाया गया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस