जासं, हमीरपुर : किसी भी छोटे या बड़े अपराधी को छोड़ा नहीं जाएगा। इसलिए गांव-कस्बे में रोजाना चेकिग अभियान चलाया जा रहा है। गैंगस्टर के साथ जिला बदर की कार्रवाई जारी है। संदिग्ध लोगों को चिह्नित कर पाबंद किया जा रहा है। अब तक करीब तीन हजार से ज्यादा लोग पर कार्रवाई की जा चुकी है। एसपी, एएसपी, सीओ व थानाध्यक्ष सभी रूट मार्च निकालकर लोगों को भयमुक्त माहौल में मतदान करने की अपील कर रहे हैं। एसपी कमलेश दीक्षित ने कहा कि अपराधियों की सही जगह जेल है। अराजकतत्वों पर सख्त कार्रवाई जारी है। चुनाव में कोई गड़बड़ी बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

विधानसभा चुनाव का बिगुल बज चुका है। इसे लेकर पुलिस व प्रशासन ने भी कमर कस ली है। सभी चेक पोस्ट पर पिकेट लगाने के साथ वाहनों की चेकिग कराई जा रही है। जिससे विस चुनाव शांतिपूर्वक संपन्न कराया जा सके। बीते 30 दिनों के भीतर तीन बिवार, सुमेरपुर और कुरारा में असलाह बनाने की फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया गया है। एसपी ने बताया कि बीते दो दिनों पूर्व वाहनों की रूटीन चेकिग में वैन में करीब डेढ़ लाख रुपये भी बरामद किए गए। जिसकी जांच चल रही है। बताया कि थाना बिंवार के प्रभारी निरीक्षक दुर्ग विजय सिंह टीम के साथ कस्बा छावनी बाजार में गश्त कर रहे थे। तभी देर रात मुखबिर की सूचना मिली कि इंगोहटा रोड के करीब ग्राम मवईजार निवासी पप्पू उर्फ बिदादीन प्रजापति अपने खेत स्थित झोपड़ी में तमंचा बना रहा है और कुछ लोग बाहर से तमंचा लेने आ रहे हैं। इस दौरान उसे दबोच लिया गया। इसके बाद नौ जनवरी को भी सुमेरपुर में धरपकड़ अभियान चलाया गया। एएसपी अनूप कुमार ने बताया कि सुमेरपुर पुलिस ने सिसोलर रोड से ग्राम अतरैया जाने वाली रास्ते में जंगल में पुलिस ने दबिश देकर पेड़ के नीचे संचालित असलहा फैक्ट्री को पकड़ा था। जिसमें पुलिस ने 43 वर्षीय जगभान यादव पुत्र स्व. रघुवर दयाल यादव निवासी ग्राम मिहुना थाना सुमेरपुर को गिरफ्तार करते हुए उसके पास से पांच 315 बोरे के तमंचे, चार 312 बोर के तमंचे, एक 32 बोर का तमंचा समेत कारतूस व असलहा बनाने के उपकरण बरामद किए हैं। एसपी ने बताया कि यह धरपकड़ अभियान आगे भी जारी रहेगा।

Edited By: Jagran