जागरण संवाददाता, हमीरपुर : अलग अलग मामलों में जिला कारागार में निरुद्ध बंदियों को अल्ट्रासाउंड कराने को जिला अस्पताल भेजा गया। जहां सुरक्षा व्यवस्था के बीच सभी का चिकित्सक द्वारा अल्ट्रासाउंड किया गया। बुधवार को भी जेल से 12 बंदियों को एक्सरे के लिए जिला अस्पताल भेजा गया था।

गुरुवार को जिला अस्पताल गेट पर खड़ी कैदियों से भरी गाड़ी लोगों के लिए कौतूहल का विषय थी। जिसमें से चार चार बंदियों को निकाल अस्पताल के अंदर ले जाया गया और कुछ देर बाद उन्हें पुन: गाड़ी में बैठा दिया गया और दूसरे बंदियों को अंदर ले जाया गया। बंदियों की सुरक्षा में मुस्तैद सूबेदार बृजेंद्र शुक्ला ने बताया कि बंदियों का अल्ट्रासाउंड कराने के लिए लाया गया है। जिन्हें सुरक्षा की दृष्टि से कम संख्या में अंदर ले जाया जा रहा है। बताया कि बुधवार को भी बंदियों को एक्स रे के लिए लाया गया था। गुरुवार को अल्ट्रासाउंड के लिए लाए गए बंदियों में अवधेश 30 पुत्र नारायन, अशोक 32 पुत्र हरी मोहन, सुम्मा 28 पुत्र कमल, विनोद 50 पुत्र रघुबीर, आशीष 30 पुत्र जगत प्रसाद, गिरिजा दयाल 71 पुत्र भूरलाल, अमर ¨सह 30 पुत्र गनपत, अनमोल ¨सह 35 पुत्र शिवकरन, बच्चू 62 पुत्र शुभान खान, सुरेंद्र 48 पुत्र हीरालाल, अवधेश 28 पुत्र राम प्रताप, लल्लू 40 पुत्र हरचरन, मान ¨सह 32 पुत्र देशराज व रामगनेश 31 पुत्र भगवानदीन शामिल रहे। जेलर प्रमोद कुमार त्रिपाठी ने बताया कि जेल में डाक्टर द्वारा एक्स रे व अल्ट्रासाउंड कराने के लिए बंदियों को सलाह दी जाती है। जिस कारण बंदियों को जिला अस्पताल भेजना पड़ता है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस