गजाधर द्विवेदी, गोरखपुर। जायडस कैडिला की वैक्सीन का राणा हास्पिटल, चरगांवा में ट्रायल हो रहा है। लगभग सौ वालंटियरों को 18 अगस्त को पहली डोज लगाई गई थी। 28 दिन बाद मंगलवार को दूसरी डोज दी गई। तीन डोज पुन: 28 दिन बाद 13 अक्टूबर को दी जाएगी। कुल 36 वालंटियरों को दूसरी डोज लगाई गई। दो-तीन दिन में शेष सभी को डोज दे दी जाएगी।

डोज देने के बाद सभी वालंटियर चार घंटे तक विशेषज्ञों की निगरानी में रहे। किसी को कोई परेशानी नहीं हुई। पहली डोज लगाने के बाद नियमित उनके स्वास्थ्य संबंधी जानकारी ली जा रही थी। सप्ताह में एक दिन बुलाकर उनके स्वास्थ्य की जांच की जाती है। अभी तक किसी की तबीयत खराब नहीं हुई है।

पूरी तरह स्वस्थ हैं पहली वैक्सीन के वालंटियर

राणा हास्पिटल को जायडस कैडिला के पहले भारत बायोटेक की वैक्सीन के ट्रायल की जिम्मेदारी मिली थी। इस वैक्सीन के दो डोज वालंटियरों को दिए गए थे। वे सभी पूरी तरह स्वस्थ हैं। उनकी नियमित निगरानी की जा रही है। उन्हें पहली डोज 31 ज़ुलाई व दूसरी डोज 15वें दिन 14 अगस्त को दी गई। सभी वालंटियर पूरी तरह स्वस्थ हैं।

जायडस कैडिला की वैक्सीन की दूसरी डोज वालंटियरों को दी जा रही है। भारत बायोटेक की वैक्सीन का ट्रायल हो चुका है। 42 दिन फालोअप होना था, वह पूरा हो चुका है। किसी पर वैक्सीन का नकारात्मक असर नहीं दिखा है। शीघ्र ही उनकी रिपोर्ट ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया को भेज दी जाएगी। -डॉ. सोना घोष, निदेशक, राणा हास्पिटल

गोरखपुर में 300 बेड के कोविड अस्‍पताल में जल्‍द शुरू हो इलाज

मंडलायुक्त जयंत नार्लिकर ने बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बनाए गए तीन सौ बेड के कोविड अस्पताल में जल्द से जल्‍द मरीजों का इलाज शुरू करने को कहा है। मंगलवार की रात जिलाधिकारी के. विजयेंद्र पांडियन, गीडा के मुख्‍य कार्यपालक अधिकारी संजीव रंजन, मेडिकल कालेज के प्राचार्य डॉ. गणेश कुमार, राजकीय निर्माण निगम के महाप्रबंधक के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये बैठक करते हुए कहा कि बीआरडी मेडिकल काॅलेज से कोई मरीज वापस नहीं जाना चाहिए।

मंडलायुक्‍त ने कहा कि टीम भावना से कार्य कर कोरोना के मरीजों के जीवन की रक्षा करनी है। लोगों के जीवन की रक्षा के कार्य में किसी प्रकार की लापरवाही को बर्दाश्‍त नहीं किया जाएगा। उन्होंने बीआरडी मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य को निर्देश दिया कि प्रतिदिन इस बात की जानकारी दें कि कितने कोविड मरीज भर्ती हैं और कितने बेड खाली हैं। उन्होंने कहा कि लेबल-3 के अस्‍पताल को और बेहतर बनाने में बीआरडी मेडिकल कॉलेज प्रशासन को पूरा सहयोग किया जाएगा। उन्होंने कोविड अस्पताल में ऑक्सीजन और दवाओं की उपलब्‍धता की भी जानकारी ली।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस