गोरखपुर : प्रदेश के सिंचाई, सिंचाई यांत्रिक व जिले के प्रभारी मंत्री धर्मपाल सिंह ने कहा है कि प्रदेश में भाजपा की सरकार है और योगी राज में किसी की गुंडागर्दी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। छात्र संघ चुनाव में हार होती देखकर कुछ लोग अराजकता फैलाना चाह रहे हैं, उन सभी को चिन्हित किया जा रहा है। उपद्रवियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

बाढ़ की तैयारियों एवं राहत बचाव कार्य की समीक्षा करने के बाद सिंचाई मंत्री पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। पत्रकार वार्ता में उन्होंने बताया कि बंधों की मरम्मत और रखरखाव में धन की कमी नहीं होने पाएगी। समीक्षा बैठक में निर्देश दिए गए हैं कि प्रशासन से मिलने वाली रैटहोल, रेनकट या अन्य सभी जानकारियों को सिंचाई विभाग के अधिकारी गंभीरता से लें। सिंचाई मंत्री ने सभी जनप्रतिनिधियों से अतिवृष्टि एवं बाढ़ के कारण क्षतिग्रस्त मकानों की सूची उपजिलाधिकारियों को उपलब्ध कराकर प्रशासन का सहयोग करने की अपील की। प्रभारी मंत्री ने बताया कि बैठक में जर्जर तारों और ट्रांसफार्मर को समय से बदलने के साथ राजकीय नलकूप का सौन्दर्यीकरण कराकर सिंचाई विभाग की जमीन को अवैध कब्जे से मुक्त कराने को कहा। मंत्री ने नगर आयुक्त को कूड़ा निस्तारण, सफाई व्यवस्था को दुरुस्त कराकर मोबाइल टायलेट स्थापित कराने को कहा। मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को गांव में टीम भेजकर शत-प्रतिशत टीकाकरण सुनिश्चित कराने को कहा। जिला पंचायत राज अधिकारी को खराब हैंडपंप की मरम्मत कराने, लोनिवि अधिकारियों को सड़कें ठीक कराने, बिजली विभाग को विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित कराने, के निर्देश दिए। बैठक के दौरान कैम्पियरगंज विधायक प्रतिनिधि गणेशदत्त त्रिपाठी ने बरगदही में 100 मीटर बांध बनवाने की मांग की। सदर विधायक राधामोहन दास अग्रवाल, पिपराइच विधायक महेन्द्रपाल सिंह ने सफाई एवं अन्य समस्याओं से मंत्री को अवगत कराया।

जिलाधिकारी के. विजयेन्द्र पाण्डियन ने बाढ़ से बचाव के लिए की गई तैयारियों के बारे में अवगत कराते हुए कहा कि अब तक जनपद में किसी भी प्रकार की जन-धन की हानि नहीं हुई है। बिजली गिरने तथा अतिवृष्टि के कारण हुई हानि का मुआवजा शत प्रतिशत वितरित करा दिया गया है। सात तहसीलों में 89 बाढ़ चौकी 24 घटे कार्यरत है तथा कलेक्ट्रेट में केंद्रीय कार्यालय स्थापित है। बैठक में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शलभ माथुर, सासद बासगाव कमलेश पासवान, विधायक सहजनवा शीतल पाण्डेय, विधायक खजनी संत प्रसाद आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran