गोरखपुर (जेएनएन)। झंगहा क्षेत्र में नौवाबारी पलिपा गांव के पास गुरुवार को कम्बाइन की चपेट में आने से सविता (30) की मौत हो गई। इस हादसे में उनके भाई राजन (25) और बहन का सात वर्षीय पुत्र आर्यन घायल हो गए हैं। हादसे के बाद उग्र भीड़ ने कम्बाइन चालक और दो खलासी को बुरी तरह से पीट दिया।

जानकारी के अनुसार देवरिया जिले के मदनपुर थाना अंतर्गत सेमरा खुर्द निवासी राजन की बहन सविता ने नवरात्र के आखिरी दिन तरकुलहा माता का दर्शन करने की मन्नत मान रखी थी। गुरुवार को वह छोटे भाई और बहन के बेटे के साथ बाइक से मंदिर में दर्शन करने जा रही थीं। दिन में 12 बजे के आसपास वे लोग नौवाबारी पलिपा गांव के पास पहुंचे थे कि सामने से तेज रफ्तार में आ रही कम्बाइन मशीन ने बाइक में टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि महिला की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए।

हादसे के बाद एकत्र हुए ग्रामीणों ने शाहजहांपुर जिले के लक्ष्मीपुर, खुटारा निवासी कम्बाइन चालक बृजपाल और खलासी ध्रुवपाल सिंह तथा जीतेंद्र को पकड़कर बुरी तरह से पीट दिया। पुलिस ने किसी तरह से उनको भीड़ के चंगुल से निकालकर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया। जहां से डाक्टरों ने तीनों को जिला अस्पताल रेफर कर दिया है। सविता की शादी बड़हलगंज क्षेत्र के सिधुआपार गांव में श्रीराम विश्वकर्मा के साथ हुई थी। नवरात्र शुरू होने से पहले ही वह मायके आई थीं। मायके से ही भाई व भांजे के साथ देवी दर्शन करने जा रही थीं। दोनों घायलों को गोरखपुर रेफर किया गया है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस