गोरखपुर, जेएनएन। सरकारी की सख्ती के बाद भी तीन तलाक की घटनाएं रुक नहीं रही हैं। गोरखपुर जिले के सहजनवां ब्लाक के ग्राम सभा बकुलही में एक मुस्लिम महिला को उसके पति ने तीन तलाक दे दिया। तलाक के बाद पति के खिलाफ कार्रवाई को लेकर महिला हरपुर-बुदहट थाने का चक्कर काट रही है मगर उसकी फरियाद नहीं सुनी जा रही है। पीड़ित ने पति पर दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज होने से नाराज होकर तलाश देने का आरोप लगाया है।

मारपीट कर घर से निकाला

गोरखपुर के सहजनवां तहसील के हरपुर-बुदहट थाना क्षेत्र के ग्राम सभा बकुलही निवासी लाल मोहम्मद ने अपनी पुत्री कौशर खातून का निकाह संतकबीर नगर जनपद के घनघटा थाना क्षेत्र छपरा निवासी युसूफ खान पुत्र नौशाद खान के साथ 8 मई 2017 को किया था। आरोप है कि निकाह के बाद ससुराल पक्ष के लोग दहेज की मांग को लेकर प्रताड़ित करने लगे और 20 नवंबर 2017 को मारपीट कर घर से निकाल दिया।

सुलह के लिए हो रही थी पंचायत में बोला तलाक, तलाक, तकाल

इसके बाद ससुराल से कौशर अपने मायके बकुलही आ गई और पति, ससुर, सास, जेठ तथा जेठानी पर दहेज उत्पीड़न को केस दर्ज करा दिया। पीड़िता का कहना है कि परिवार में सुलह-समझौते की बात चल रही थी, जिसको लेकर पति युसूफ खान 16 अक्टूबर को बकुलही पहुंचा। आरोप है कि बातचीत के दौरान विवाद होने पर युसूफ ने कौशर के परिजनों के सामने तीन बार तलाक बोलकर तलाक दिया।

जान से मारने की धमकी भी दी

वहां से जाते समय जाने से मारने की धमकी भी दी। पीड़िता तहरीर लेकर हरपुर-बुदहट थाने पर कई बार गई मगर पुलिस केस नहीं दर्ज कर रही है। थानेदार देवेंद्र लाल ने कहा कि अभी तक तहरीर नहीं मिली है।

Posted By: Pradeep Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस