गोरखपुर, जेएनएन। खोराबार के अराजी मतौनी गांव में फायरिंग करने वाले प्रधान प्रत्याशी व उनके सहयोगी सपा नेता पर पुलिस ने हत्या की कोशिश व आचार संहिता का उल्लंघन करने का केस दर्ज किया है। शुक्रवार की सुबह पुलिस ने प्रधान प्रत्याशी को गिरफ्तार कर लिया। सपा नेता की तलाश चल रही है।

पुलिस चौकी प्रभारी ने दर्ज कराया केस

जगदीशपुर चौकी प्रभारी अश्वनी तिवारी ने खोराबार थाने में आरोपितों पर केस दर्ज कराया है। तहरीर में उन्होंने लिखा है कि गुरुवार की शाम कुसम्ही बाजार में पोलिंग बूथ पर मौजूद था। कलस्टर मोबाइल में तैनात सिपाही नागेंद्र भारद्वाज ने फोन करके बताया कि प्रधान पद के प्रत्याशी विजय प्रताप सिंह उर्फ विकास व उनके समर्थक जितेन्द्र सिंह बूथ पर हंगामा कर रहे हैं। गांव के सुशील सिंह और अमरेश मतदान करने के लिए लाइन में खड़े थे। शरीर भारी होने पर एजेंट ने बैठने के लिए कुर्सी दे दिया। जिसका विरोध विजय प्रताप व जितेंद्र कर रहे हैं।

बूथ पर फायरिंग से मची थी भगदड़

पुलिस ने बल प्रयोग कर सबको हटा दिया। लेकिन कुछ देर बाद विजय प्रताप पोलिंग बूथ से 250 मीटर दूर पर मतदान के लिए काटी जा रही पर्ची वाले काउंटर पर पहुंच गए। मतदाताओं के ऊपर अपने पक्ष में मतदान करने का दबाव बनाने लगे। विरोध करने पर जान से मारने की नीयत से फायरिंग करने लगे। जिसमें लोग बाल-बाल बच गए। घटना के बाद बूथ पर भगदड़ मच गई। फोर्स के साथ मौके पर पहुंचा तो 315 बोर का एक फायर शुदा कारतूस मिला। प्रभारी निरीक्षक खोराबार नासिर हुसैन ने बताया कि विजय प्रताप को गिरफ्तार कर लिया गया है। दूसरे आरोपित की तलाश चल रही है।

रैली निकाल लगाए मुर्दाबाद के नारे

बड़हलगंज कोतवाली क्षेत्र के कल्यानपुर मिश्रौली निवासी एक युवक के खिलाफ गांव के पूर्व प्रधान व प्रधान प्रत्याशी ने रैली निकाल कर मुर्दाबाद के नारे लगाये। पीडि़त ने थाने पर तहरीर देकर कार्यवाई की मांग की है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। पुलिस को दिये तहरीर में गांव के रूद्रेश तिवारी ने बताया की पंचायत चुनाव के दिन कुछ लोगो द्वारा मुझे मारने का प्रयास किया गया। विफल होने पर शुक्रवार की रात पूर्व प्रधान के स्वजन  रैली निकाल मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए दरवाजे पर चढने का प्रयास किया गया, लेकिन रैली का वीडियो बनाते देख लोग दरवाजे से वापस हो गये। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप