देवरिया, जेएनएन। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की फर्जी वेबसाइट बनाकर विद्यालयों को मान्यता दिलाने के नाम पर ठगने वाले गिरोह का देवरिया पुलिस ने पर्दाफाश किया है। पुलिस ने गिरोह के एक सदस्य ट्यूबवेल कालोनी निवासी अभय कुमार सिंह को गिरफ्तार किया है। सरगना समेत बाकी अन्य सदस्यों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस दबिश दे रही है।

ऐसे हुआ खुलासा

एसपी डा. श्रीपति मिश्र ने बताया कि जालसाज ने सदर कोतवाली के कतरारी निवासी अजय कुमार मिश्र से साढ़े तीन लाख रुपये विद्यालय की मान्यता दिलाने के नाम पर लिए थे। मान्यता के नाम पर उन्हें जो प्रमाण पत्र दिया गया उस पर उच्‍चतर माध्यमिक शिक्षा परिषद कौशांबी अंकित था। अभय सिंह ने फर्जी बोर्ड का क्षेत्रीय कार्यालय देवरिया जिले के भाटपाररानी के पिपरा बघेल में होने की बात कही।

शक होने पर पुलिस से की शिकायत

शक होने पर अजय ने इसकी शिकायत पुलिस से की थी। साइबर क्राइम सेल से इस पूरे प्रकरण की जांच कराई गई तो पता चला कि कौशांबी में इस तरह का तो कोई बोर्ड ही नहीं है। वहीं विभाग भी अपने स्तर से जांच करा रहा था। उसमें भी फर्जीवाड़े की पुष्टि हो गई। डीआइओएस की रिपोर्ट आने के बाद मुकदमा दर्ज किया गया है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस