गोरखपुर, जागरण संवाददाता। यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटर की अंक सुधार की कापियों का मूल्यांकन शहर के तीन केंद्रों पर शुरू हो गया है। 12 अक्टूबर तक होने वाले मूल्यांकन के दौरान परीक्षक कुल 56120 कापियां जाचेंगे। चार दिनों में दो केंद्रों पर हाईस्कूल की 40589 व एक केंद्र पर इंटर की 15531 कापियों का मूल्यांकन होगा।

सीसी टीवी कैमरे की निगरानी में होगा मूल्‍यांकन

मूल्‍यांकन का काम सीसी टीवी कैमरों की निगरानी में होगा। मूल्‍यांकन शुरू होने से पहले हीि सभी मूल्यांकन केंद्रों को सीसी टीवी कैमरे से लैस कर दिया गया है। मूल्‍यांकन कार्य में पूरी शुचिता व पारदर्शिता बनाए रखने के लिए यह कदम उठाया गया है।

हाईस्‍कूल का दो व इंटर का एक केंद्र पर होगा मूल्‍यांकन

मूल्यांकन के लिए शहर में तीन केंद्र बनाए गए हैं। हाईस्कूल की कापियों का मूल्यांकन एमएसआइ व एमजी इंटर कालेज तथा इंटर की कापियों का मूल्यांकन राजकीय जुबिली इंटर कालेज पर होगा। उप प्रधान परीक्षक निर्धारित मानक के अनुसार हाईस्कूल की 50 तथा इंटर की 45 उत्तर पुस्तिकाओं का वितरण प्रत्येक दिन सहायक परीक्षक को करेंगे।

परीक्षकों को करना होगा खंडवार मूल्‍यांकन

परीक्षकों को उत्तर पुस्तिकाओं में हल किए गए प्रश्नों का खंडवार मूल्यांकन करते हुए प्रत्येक प्रश्न पर अंक देना अनिवार्य होगा। बोर्ड ने परीक्षकों को मूल्यांकन केंद्रों पर सुबह 10 से सायं पांच बजे तक कापियों के मूल्यांकन केंद्रों पर उपस्थित रहने का निर्देश दिया है। ताकि निर्धारित समय सीमा के अंदर कापियों का मूल्यांकन पूर्ण हो सके।

चार दिन में पूरा होगा मूल्‍यांकन कार्य

डीआइओएस ज्ञानदेंद्र प्रताप सिंह भदौरिया बताते है कि बोर्ड ने अंक सुधार की परीक्षा की कापियों के मूल्यांकन की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है। मूल्यांकन कार्य चार दिनों में पूर्ण कर लेना है। इसके लिए सभी उप प्रधान परीक्षकों व सहायक परीक्षकों को निर्देश दिए गए हैं। केंद्रों पर शासन की कोविड-19 गाइड लाइन के अनुसार मूल्यांकन कार्य संपादित किया जाएगा। परीक्षकों को मास्क लगाकर मूल्यांकन कार्य करने के निर्देश दिए गए हैं।

Edited By: Navneet Prakash Tripathi