गोरखपुर, जेएनएन। माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा जारी परीक्षा केंद्रों की प्राथमिक सूची में काफी गड़बड़ी है। कन्या इंटर कालेज, हरैया, कौड़ीराम का केंद्र कैंपियरगंज क्षेत्र के श्रीमती गुजराती देवी उच्‍चतर माध्यमिक मझगांवा, बनकटा का बनाया है। इन दोनों विद्यालयों के बीच की दूरी 92 किलोमीटर है। इतनी दूर परीक्षा केंद्र बनना परीक्षार्थियों के कल्पना से बाहर है। इसी तरह 34 और विद्यालय हैं, जिनके केंद्र मानक से अधिक दूर बनाए गए हैं।

परिषद की गलती से दूर बने केंद्र

जिन विद्यालयों के परीक्षा केंद्र दूर बनाए गए हैं, उनमें से दोनों विद्यालयों ने एक-दूसरे का कोड नहीं भरा था। कोड न भरने का आशय है कि उनकी ओर से केंद्र की मांग नहीं की गई थी। माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा केंद्र बनाते समय दूरी का ध्यान नहीं रखा गया और अधिक दूरी पर केंद्रों का निर्धारण हो गया।

विद्यालय प्रबंधन भी खामोश

नवंबर महीने के पहले सप्ताह में ही माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने केंद्रोंं की सूची जारी कर दी थी। सूची को जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय पर 'ास्पा करते हुए सभी विद्यालयों को आपत्तियां दाखिल करने के लिए 15 नवंबर का समय दिया गया था, लेकिन 16 विद्यालयों की ओर से ही आपत्तियां दाखिल की गई हैं। जिनके विद्यालय के केंद्र काफी दूर हैं, उन्होंने छात्र हित में कोई रुचि नहीं दिखाई और आपत्ति भी नहीं दाखिल की। 92 किलोमीटर केंद्र जाने के बाद भी संज्ञान नहीं लिया गया। इसके साथ ही 47 किलोमीटर दूर जिस विद्यालय का केंद्र गया है, वहां से भी कोई आपत्ति नहीं आई है। विभाग ने केंद्रों की जियो लोकेशन के जरिए दूरी देखकर इन गलतियों का पता लगाया है और इसे सुधार के लिए बोर्ड को भेजा जाएगा।

10 किलोमीटर तक होती है केंद्र बनाने की कोशिश

जियो लोकेशन के अनुसार पहली प्राथमिकता में पांच किलोमीटर तक, उसके बाद पांच से आठ किलोमीटर तक, आठ से 12 किलोमीटर तक व 12 से 20 किलोमीटर तक केंद्र बनाए जा सकते हैं, लेकिन जनपद में विद्यालयों की पर्याप्त संख्या को देखते हुए अधिकतम 10 किलोमीटर की दूरी पर ही सभी केंद्र बन जाने चाहिए लेकिन कई विद्यालयों का केंद्र काफी दूर बनाया गया है।

अधिक दूरी वाले प्रमुख विद्यालय

- कन्या इंटर कालेज हरैया, कौड़ीराम का केंद्र 92 किलोमीटर दूर श्रीमती गुजराती देवी उच्‍चतर माध्यमिक विद्यालय मझगांवा, बनकटा में गया है।

- श्रीमती कौशिल्या देवी बालिका इंटर कालेज मुडिय़ा, झुंगिया का केंद्र 51 किलोमीटर दूर रघुराज सिंह किसन इंटर कालेज, गगहा में भेजा गया है।

- लालबहादुर शास्त्री उच्‍चतर माध्यमिक विद्यालय राखूखोर, जंगलकौडिय़ा का केंद्र 47 किलोमीटर दूर कमला सिंह बालिका इंटर कालेज, रहीमाबाद, सहजनवां में गया है।

- डीडी उच्‍चतर माध्यमिक विद्यालय भिसवा चिउटहा भटहट का केंद्र 37 किलोमीटर दूर आचार्य नरेंद्र देव इंटर कालेज लहसड़ी में गया है।

- श्रीमती भाग्यमानी दौपदी देवी उच्‍चतर माध्यमिक विद्यालय मोहम्मदपुर रावतगंज का केंद्र 35 किलोमीटर दूर जनता इंटर कालेज माड़ापार, पिपराइच में गया है।

- स्वामी विवेकानंद कन्या उच्‍चतर माध्यमिक विद्यालय जद्दुपट्टी की केंद्र 30 किलोमीटर दूर महीप नारायण शाही जनता इंटर कालेज, महावीरछपरा में भेजा गया है।

आपसी रंजिश बता नजदीक के विद्यालय को बदलने की मांग

दूरी को लेकर आपत्तियां भले ही कम आई हों लेकिन एक नजदीक के विद्यालय में केंद्र चले जाने पर दूसरे विद्यालय ने आपसी रंजिश बताकर आपत्ति दाखिल की है। श्री आरडी दास इंटर कालेज पाली बांसगांव का केंद्र पं. जवाहर लाल नेहरू इंटर कालेज बांसगांव में भेजा गया है लेकिन आपसी रंजिश बताकर केंद्र को बदलने की गुहार लगाई गई है। इस आपत्ति से विभाग भी हतप्रभ है।

जिला समिति की बैठक में रखा जाएगा मुद्दा

जिला विद्यालय निरीक्षक ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह भदौरिया ने कहा कि अधिक दूरी के 35 विद्यालयों को चिन्हित किया गया है। विभाग ने अपने प्रयास से इन विद्यालयों का पता लगाया। विद्यालयों की ओर से केवल 16 आपत्तियां दाखिल हुई हैं। जिला समिति की बैठक में सुधार के लिए यह मुद्दा रखा जाएगा।

Posted By: Pradeep Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस