गोरखपुर, जेएनएन। गोरखपुर-बड़हलगंज हाईवे पर साऊंखोर के पास सोमवार की रात  पुलिस की वर्दी पहने बदमाशों ने एक करोड़ बीस लाख रुपये की सुपारी लदे दो ट्रकों को लूट लिया। खुद को वाणिज्य कर विभाग का अधिकारी बताकर जांच-पड़ताल के बहाने आधा दर्जन वर्दीधारियों ने  ट्रक रोका और दो बदमाश दोनों ट्रक लेकर बड़हलगंज की ओर चले गए। स्कार्पियो सवार चार अन्य वर्दीधारी बदमाशों ने ट्रकों के खलासी और चालक को बंधक बना लिया और घटनास्थल से करीब 50 किमी दूर फोरलेन पर ले जाकर अलग-अलग स्थान पर छोड़कर फरार हो गए।

असोम से सुपारी लेकर दोनों ट्रक नागपुर जा रहे थे। एक ट्रक बीकानेर, राजस्थान के डूंगरगढ़ निवासी महेश व दूसरी ट्रक बीकानेर के बोकाजन निवासी वीरेंद्र तोरन चला रहे थे। बाघागाड़ा में फोरलेन से उतरकर दोनों ट्रक बड़हलगंज के लिए जा रहे थे। रास्ते में साऊंखोर के पास स्कार्पियो सवार छह बदमाशों ने खुद को वाणिज्यकर विभाग का अधिकारी बता कर दोनों ट्रकों को रोक लिया और चालकों से बिल्टी और सुपारी ढुलाई से संबंधित कागजात दिखाने को कहा।

कागजों में कमी बता कर वर्दीधारी बदमाशों ने चालक महेश व वीरेंद्र तोरन तथा खलासी बाबूलाल व मलाओंग को थाने चलने के लिए कहते हुए अपनी गाड़ी में बैठा लिया और गोरखपुर की ओर चल दिए जबकि बदमाशों के दो साथी ट्रकों को लेकर बड़हलगंज की ओर भाग निकले। वर्दीधारी बदमाशों ने चालकों से 10 हजार रुपये और मोबाइल फोन लूट लिया और रात में 1:45 बजे के आसपास एक चालक और खलासी को खोराबार इलाके में रामनगर कडज़हां के पास तथा दूसरे चालक और खलासी को बाघागाड़ा ले जाकर फोरलेन पर फेंक कर फरार हो गए। दोनों ट्रकों के चालक व खलासी ने देर रात घटना की जानकारी पुलिस को दी। प्रभारी एसएसपी विनय कुमार सिंह ने बताया कि पीडि़तों की तहरीर पर आधा दर्जन अज्ञात बदमाशों के खिलाफ बड़हलगंज थाने में केस दर्ज किया गया है।

केस में घट गई सुपारी की कीमत व बदमाशों  की संख्या

सुपारी भरे ट्रकों को लूटने के मामले में मुकदमा दर्ज होने के बाद पुलिस की भूमिका पर सवाल खड़े होने लगे हैं। सनसनीखेज ढंग से हुई इस लूट के मामले में मंगलवार को बड़हलगंज थाने में दर्ज हुए मुकदमे में न केवल सुपारी की कीमत आधी से भी कम कर दी गई बल्कि बदमाशों की संख्या भी छह से घटाकर चार कर दी गई।

असोम से सुपारी लेकर नागपुर जा रही दोनों ट्रकों को बड़हलगंज इलाके में साऊंखोर के पास स्कार्पियो सवार बदमाशों ने रोका,चालक और खलासी को बंधक बना लिया। बदमाशों के दो साथी सुपारी लदे ट्रक लेकर बड़हलगंज की तरफ फरार हो गए। स्कार्पियो सवार बदमाशों ने चालक और खलासी को रात में फोरलेन पर उतार कर फरार हो गए। घटना की सूचना मिलने पर रात में ही पहुंचे पुलिस अधिकारियों को चालकों ने बताया था कि दोनों ट्रकों पर तीन करोड़ रुपये की सुपारी लदी थी।

देर शाम इस मामले में बड़हलगंज थाने में एक चालक से तहरीर लेकर धोखाधड़ी, जालसाजी और लूट का मुकदमा दर्ज किया है। लूट के इस केस में पुलिस ने सुपारी की कीमत 1.20 करोड़ रुपये होने का उल्लेख किया है। इतना ही नहीं बदमाशों की संख्या भी सिर्फ चार ही दर्ज की गई है। चालकों की माने तो पुलिस वालों ने अपने मन मुताबिक तहरीर लिखने के लिए उन्हें मजबूर किया।

बदमाशों की संख्या घटा कर डकैती दर्ज करने से बच गई पुलिस

बदमाशों की संख्या घटा कर पुलिस डकैती का केस दर्ज करने से बच गई। दरअसल बदमाशों की संख्या चार से अधिक होने पर पुलिस को इस मामले मे डकैती का मुकदमा दर्ज करना पड़ता। डकैती के मुकदमे की मानीटङ्क्षरग सीधे डीजीपी कार्यालय से होती है। ऐसे मामले में डीजीपी कार्यालय से रोज विवेचना की प्रगति पूछी जाती है। इसलिए बदमाशों की संख्या छह से घटाकर चार कर पुलिस ने डीजीपी कार्यालय को रोज-रोज जवाब देने से खुद को बचा लिया। सुपारी की कीमत तीन करोड़ होने पर मामला सनसनीखेज हो जाता और यह घटना जोन की सबसे बड़ी लूट में दर्ज हो जाती। इससे बचने के लिए पुलिस ने लूट की रकम घटा दी और वारदात के बाद फैलने वाली सनसनी को कम कर दिया।

पहले भी होती रही हैं ट्रक लूट की घटनाएं

जिले में ट्रक लूट की घटनाएं पहले भी होती रही हैं। वर्ष 2017 और 2018 में इस तरह की आधा दर्जन से अधिक घटनाएं हुई थी, लेकिन इन वारदातों में बदमाश जहां ट्रक लूटते थे, उसी के आसपास चालक और खलासी का हाथ-पैर बांध कर फेंक देते थे। सोमवार की रात हुई घटना में यही अंतर है। इस वारदात में बदमाश, चालक और खलासी को चार घंटे से अधिक वक्त तक बंधक बनाए रहे। पूर्व में हुई सभी घटनाओं में सहारनपुर जिले के एक गैंग को पकड़कर पुलिस, उनका पर्दाफाश करने में कामयाब हो गई थी, लेकिन सोमवार की रात हुई घटना का पर्दाफाश, पुलिस के लिए नई और अपेक्षाकृत बड़ी चुनौती साबित होगी।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Pradeep Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस