गोरखपुर, जागरण संवाददाता। रेलवे स्टेशन पर स्टेशन डायरेक्टर कार्यालय के सामने लावारिस अटैची मिलने से हड़कंप मच गया। अनहोनी की आशंका में जीआरपी ने एक नंबर प्लेटफार्म खाली करा दिया। बम स्क्वाड ने अटैची खोली तो उसमें दो कंबल व शाल मिली। जिसके बाद अधिकारियों व यात्रियों ने राहत की सांस ली।

बेंच के नीचे पडी थी लावारिस अटैची

दोपहर दो बजे स्टेशन डायरेक्टर आशुतोष गुप्ता के कार्यालय के सामने बेंच के नीचे लावारिस अटैची पड़ी दिखी। डायरेक्टर के कार्यालय में तैनात कर्मचारियों ने इसकी सूचना यात्री मित्र कार्यालय के साथ ही जीआरपी व आरपीएफ को दी।

अटैची में बम होने की आशंका से सहमे लोग

अटैची में बम होने की अफवाह से स्टेशन पर यात्रियों में तरह-तरह की चर्चा होने लगी। कंट्रोल रूम में सूचना देने पर डाग व बम स्क्वाड पहुंचे। इसके चलते एक घंटे तक प्लेटफार्म नंबर एक पर आवागमन ठप रहा। जीआरपी थाना प्रभारी उपेंद्र श्रीवास्तव ने बताया कि ट्रेन पकडऩे की जल्दबाजी में कोई व्यक्ति अटैची भूल गया है। सीसी कैमरे की फुटेज की मदद से छानबीन की जा रही है।

सडक हादसे में अधेड की मौत

गीडा के सेक्टर 15 स्थित हाईवे पर वाहन दुर्घटना में सहजनवां के कुआवल कला निवासी 52 वर्षीय सदानन्द गुप्ता की मौत हो गई। सदानन्द गीडा स्थित एक फैक्ट्री में काम करते थे। 27 अक्‍टूबर की रात करीब नौ बजे वह अपनी बाइक से काम पर जा रहे थे। गीडा सेक्टर 15 स्थित हाईवे पर अभी पहुंचे ही थे कि किसी वाहन ने उन्हें ठोकर मार दी। पुलिस राहगीरों की मदद से उन्हें सीएचसी सहजनवां इलाज के लिए लेकर गई, जहां चिकित्सक ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। मृतक के चार पुत्रों में दो की शादी हो चुकी है। चौकी प्रभारी पिपरौली विवेक रंजन ने कहा कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। अभी कोई तहरीर नहीं मिली है।

बरात में मारपीट, तीन घायल

बरात में कहासुनी होने के बाद दो पक्ष में मारपीट हो गई। जिसमें तीन लोगों का सिर फट गया। पुलिस मामले की जांच कर रही है। भटहट गांव में सोमवार को बरात आई थी।रात को दो युवकों के बीच कहासुनी हो गई थी।मंगलवार की सुबह दोबारा मारपीट हो गई जिसमें एक पक्ष के मोनू व जलालुद्दीन व दूसरे पक्ष से अलीमुल्लाह का सिर फट गया है। दोनों पक्ष् ने पुलिस को तहरीर दी है।

Edited By: Navneet Prakash Tripathi