गोरखपुर, जागरण संवाददाता। महंगे बाइक (जावा) की किस्त और शौक पूरा करने के लिए गोरखपुर शरह में लूट करने वाले दो आरोपितों को कैंट पुलिस ने विश्वविद्यालय के पास से गिरफ्तार किया है। आरोपितों के पास से पुलिस को महंगे दाम की एक सीट वाली बाइक और तीन मोबाइल फोन बरामद हुआ। आरोपितों पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया।

ऑपरेशन त्रिनेत्र की मदद से पकड़े गए बदमाश

घटना का पर्दाफाश करते हुए एसपी नगर कृष्ण कुमार विश्नोई ने बताया कि शहर में कई जगहों पर हुई लूट और छिनैती को लेकर पुलिस ने ऑपरेशन त्रिनेत्र की मदद से सीसी कैमरों को खंगाला। इसमें दो युवक एक बाइक से मोबाइल फोन लूटते नजर आए। पुलिस ने दोनों की तलाश की तो वे विश्वविद्यायल के पास मिले। दोनों को हिरासत में लेकर पुलिस ने पूछताछ की तो उनकी पहचान चिलुआताल थाना के सिक्टौर बाजार के पीयूष पाण्डेय और राजवीर उर्फ छोटू के रूप में हुई।

किस्त पर खरीदी थी बाइक

एसपी नगर ने बताया कि आरोपित पीयूष पांडेय ने बताया कि समाज में दबंगई दिखाने के लिए उसने किस्त पर महंगी बाइक खरीदी। किस्त जमा करने में और अपने शौक को पूरा करने में परेशानी हो रही थी। इसलिए वह परेशान होकर अपने दोस्त राजवीर के साथ प्लान बनाकर लूट करने लगा। एसपी ने बताया कि आरोपितों ने 13 जनवरी को छात्रसंघ और गोलघर, 17 जनवरी को राजेन्द्र नगर से मोबाइल फोन की लूट की थी।

एक सीट पर ही बैठकर करते थे लूट

जिले के एसपी नगर ने बताया कि पीयूष पांडेय बाइक चलाता था। एक सीटर बाइक पर ही वह राजवीर को भी बैठाता था। सीसीटीवी कैमरे में देखने में ऐसा लग रहा था कि बाइक पर केवल एक ही युवक सवार है। जब कैमरे में वे बाइक से उतरते दिखे तब पता चला कि दो युवक बैठे हैं।

Edited By: Pragati Chand

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट