गोरखपुर, जागरण संवाददाता : संतकबीर नगर जिले के धनघटा थाना क्षेत्र के धनघटा-सिकरीगंज मार्ग पर खाजो गांव के पास शाम करीब साढ़े सात बजे ट्रेलर की ठोकर से एक मोटरसाइकिल सवार गंभीर रूप से घायल हो गया। परिवार के सदस्य उन्‍हें गोरखपुर ले जा रहे थे कि रास्ते में उनकी मौत हो गई। परिवार के सदस्य शव को लेकर थाने पर पहुंचे। दोषी ट्रेलर चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की है।

पेट्रोल पंप पर काम करते थे उपेंद्र

गोरखपुर जनपद के सिकरीगंज थानाक्षेत्र के जद्दूपट्टी गांव के निवासी 45 वर्षीय उपेंद्र सिंह उर्फ पप्पू पुत्र कपिलदेव सिंह खलीलाबाद स्थित एक पेट्रोल पंप पर काम करते थे। शाम करीब साढ़े सात बजे वह मोटरसाइकिल से खलीलाबाद स्थित पेट्रोल पंप से अपने घर जा रहे थे। वह इस जनपद के धनघटा थानाक्षेत्र के खाजो गांव के पास पहुंचे थे। इसी दौरान तेज गति से आ रही ट्रेलर ने उन्हें ठोकर मार दी। इससे वह गंभीर रूप से घायल हो गए। आसपास के लोगों ने इसकी सूचना पुलिस व परिवार के सदस्यों को दी।

इलाज के लिए ले जा रहे बीआरडी मेडिकल कालेज

परिवार के सदस्यों ने उन्हें उपचार के लिए बीआरडी मेडिकल कालेज-गोरखपुर ले जा रहे थे। गोरखपुर जनपद के जैतपुर गांव के पास ये लोग पहुंचे थे कि उपेंद्र की मौत हो गई। यहां से शव लेकर ये धनघटा थाने पर पहुंचे। दोषी ट्रेलर चालक के खिलाफ तहरीर देकर मुकदमा दर्ज करने की मांग की। थानाध्यक्ष अनिल कुमार दूबे ने कहा कि घटना के बाद चालक को पकड़कर ट्रेलर के साथ थाने पर लाया गया। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। मामले की जांच की जा रही है।

थाने पहुंच पिता ने सुरक्षा की लगाई गुहार

बखिरा क्षेत्र के एक पिता थाने पहुंचे और अपने बेटे से जान का खतरा बताया। उन्होंने तहरीर देकर कहा कि उन्हें उनका बेटा जान से मारने की कोशिश में लगा है। बुजुर्ग पिता की दशा देख वहां हर कोई हैरान था। पिता ने कहा कि बेटे ने गला दबाकर मारने की कोशिश की। इस घटना से वह काफी भयभीत हैं। अगर उनके बेटे पर कार्रवाई नहीं हुई तो कभी भी उनकी जान जा सकती है। उनका बेटा कई दिनों से गाली गलौज कर मारने की धमकी दे रहा था, लेकिन जान लेने की भी कोशिश की।

Edited By: Rahul Srivastava