गोरखपुर, जागरण संवाददाता। घर कब्जा कराने के आरोप में घिरे शाहपुर थानेदार आनंद प्रकाश, हल्का दारोगा सुनील मिश्रा व सिपाही राहुल कुमार को एसएसपी दिनेश कुमार ने मंगलवार की रात में निलंबित कर दिया।उरुवां थानेदार रहे दुर्गेश सिंह को शाहपुर थाने का प्रभार मिला है। एसएसआइ कैंट रहे प्रविंद राय को उरुवां का थानेदार बनाया गया है। 

शाहपुर क्षेत्र शक्ति नगर कालोनी में स्थित जमीन पर कब्जे को लेकर हृदयानंद सिंह व बशारतपुर निवासी शिवेन्द चौहान के बीच विवाद है।एक अगस्त की सुबह शिवेन्द्र चौहान ने अपने साथियों संग जेसीबी मशीन से उनके घर की बाउंड्री गिरा दिया। विरोध करने पर हृदयानंद सिंह व उनके स्वजन से मारपीट की।जिसकी सूचना उन्होंने शाहपुर थाने पहुंचकर दी लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई।थाना प्रभारी आनंद प्रकाश, हल्का दारोगा सुनील मिश्रा व सिपाही राहुल कुमार थाने पर मौजूद होने के बाद भी छह घंटे तक मौके पर नहीं गए।जानकारी होने पर एसएसपी दिनेश कुमार पी ने सीओ गोरखनाथ रत्नेश सिंह को मामले की जांच सौंपी थी। मंगलवार की रात में रिपोर्ट आने के बाद उन्होंने निलंबित करते हुए विभागीय जांच के आदेश दिए। 

एसएसपी के आदेश पर केस दर्ज कर दो को भेजा जेल :  

एसएसपी के आदेश पर सोमवार को हृदयानंद की पत्नी शशिप्रभा ने शाहपुर थाने पहुंचकर तहरीर दी। जिसमें उन्होंने लिखा है कि आरोपितों ने असलहा दिखाकर उनके पति को अरदब में ले लिया। जेसीबी की सहायता उनके घर की बाउंड्री ढहा दी। घर के दो खंभे तोड़ दिये। आरोपित ट्रैक्टर-ट्राली से मौके पर सीमेंट, बालू, सरिया, गिट्टी, ईंट आदि लेकर आए थे। वह जबरन उनकी भूमि में निर्माण कराने लगे।तहरीर के आधार पर पर शक्ति नगर कालोनी के शिवेंद्र चौहान, सुधीर कुमार चौहान, विजय कुमार, दीपक शर्मा, अशोक नगर कालोनी के रुचिर कुमार, महराजगंज के पुनीत श्रीवास्तव व 40 अज्ञात लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया था। मंगलवार को शिवेंद्र व दीपक शर्मा को गिरफ्तार कर जेल भेजा।

Edited By: Pradeep Srivastava